पीपीगंज थानाक्षेत्र के साहबगंज के टीचर कालोनी में सरकारी जमीन और रास्ते में बन रहे भवन निर्माण को ग्रामीणों ने रोक दिया। मिली जानकारी के मुताबिक टीचर कालोनी में यूनियन बैंक के बगल में एक मकान का निर्माण हो रहा है जिसके छत के बर्जा सड़क में निकालने के लिए शटरिंग हो रहा था जिसके विरोध में मोहल्ले के लोग जुट गए।मौके पर पहुचे ग्रामप्रधान प्रतिनिधि ने बताया मकान जहा बन रहां है वहां पर ग्रामसमाज के खलिहान की जमीन भी है जिसके बाद उपजिलाधिकारी से निर्माण को रोकने की मांग की गयी और लेखपाल भी पहुच गए।जिसके बाद कार्य ठप कराकर थानाध्यछ एवं उपजिलाधिकारी को काम बंद कराने जमीन की पैमाइश कराने हेतु लिखित प्रार्थना पत्र भी दिया गया। इस बारे में उपजिलाधिकारी पूजा मिश्रा ने बताया कि काम बंद करा दिया गया है जल्द ही पैमाइश कराकर सरकारी भूमि खाली कराई जायेगी।

Published in Gorakhpur

  दोनों तरफ से ट्रैफिक एक ही सड़क पर आने से दबाव बढ़ गया। वाहन टेढ़े-मेढ़े फंस गए। आम लोगों के लिए जाम से निकल पाना काफी मुश्किल हो गया। साइकिल सवार, दो पहिया, कार, रिक्शा सभी जाम में फंसे नजर आए। राहगीरों के लिए पैदल चलने का रास्ता भी नहीं था। दोपहर बाद स्थिति में धीरे-धीरे सुधार हुआ।

Published in Gorakhpur

गोरखपुर - गोरखपुर में कल गुलरिहा क्षेत्र में एक गांव से घर में घुसकर 17 वर्षीय किशोरी को सनसनीखेज ढंग से अगवा कर ले जाने की घटना सामने आई है। किशोरी के पिता ने इस मामले में अपने ममेरे भाइयों सहित चार युवकों पर अपहरण का आरोप लगाते हुए नामजद तहरीर दी है। किशोरी का भाई आरोपियों में से एक की बहन को पंद्रह दिन पहले भगा ले गया था। माना जा रहा है कि इसी का बदला लेने के लिए उन्होंने उसकी बहन को अगवा किया है। किशोरी का घर गांव से बाहर एकांत में है।दिन में 11 बजे के आसपास उसके माता-पिता बरामदे में बैठे थे। किशोरी घर के अंदर थी। दो बाइक से तीन युवक पहुंचे। बाइक खड़ी की और घर के अंदर घुसने की कोशिश करने लगे। इन सभी ने विरोध करने पर उन्होंने असलहा निकाल लिया। किशोरी के माता-पिता को जान से मारने की धमकी देते हुए उसको साथ लेकर फरार हो गए। 100 नंबर पर सूचना देने पर पहुंची पीआरवी (पुलिस रिस्पांस व्हीकल) ने अपहर्ताओं को खोजने का प्रयास किया लेकिन उनका पता नहीं चला।किशोरी के पिता ने बालापार, चिलुआतल निवासी दो ममेरे भाइयों पर अपहरण का आरोप लगाया है। गांव के दो युवकों पर उनका सहयोग करने का आरोप है। बताते हैं किशोरी का रिश्तेदारी की एक लड़की को साथ लेकर पंद्रह दिन पहले फरार हो गया था। चिलुआताल थाने में इसकी सूचना भी दर्ज है। काफी तलाश के बाद भी आजतक उनका पता नहीं चला। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है। मामला दर्ज किया गया गुलरिहा थाना के उप निरीक्षक परविंदर राय ने बताया कि किशोरी के अपहरण का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है। यह घटना पंद्रह दिन पहले चिलुआताल क्षेत्र से लड़की को भगा ले जाने से जुड़ी है। छानबीन की जा रही है। इस प्रकरण के आरोपी जल्दी ही पकड़ लिए जाएंगे।

Published in Gorakhpur

झोलाछाप की लापरवाही से मजदूर की चार वर्षीय बालिका की जान पर आफत बन गई। इन्फेक्शन से बालिका के शरीर पर घाव हो गए तथा खाल मोटी पर्त के रूप में काली पड़ गई। बालिका का इलाज कराने को लेकर भटक रहे उसके माता-पिता ने थाने में तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की तो पुलिस ने सीएमओ ऑफिस जाने की सलाह दे डाली। लगभग बीस दिन पहले विकास क्षेत्र के ग्राम अलपुरा निवासी मजदूर प्रमोद कुमार पुत्र महेश चंद्र की चार वर्षीय पुत्री खुशबू को सर्दी और बुखार की शिकायत थी। मजदूर बालिका को लेकर गांव में ही क्लीनिक चला रहे झोलाछाप चिकित्सक के पास गया। चिकित्सक ने बालिका का परीक्षण किया और बालिका को दवा देते हुये एक इंजेक्शन लगा दिया। जिसके बाद मजदूर बालिका को लेकर घर चला गया। उसी रात में बालिका के शरीर पर घाव हो गये और पूरा शरीर काला पड़ गया, त्वचा काली मोटी हो गई। दर्द से तड़प रही बालिका की हालत देखकर मजदूर घबरा गया जिसे लेकर वह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचा जहां से बालिका को जिला अस्पताल भेज दिया गया। बालिका की हालत से परेशान मजदूर शनिवार को पत्नी तथा बच्ची के साथ थाना कोतवाली पहुंचा और चिकित्सक के विरुद्ध तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की। थाना कोतवाली में तड़प रही बालिका को देखने वालों का तांता लग गया। हर कोई झोलाछाप चिकित्सक को कोस रहा था। थाना पुलिस ने अपना पल्ला झाड़ते हुये मजदूर को सीएमओ कार्यालय में शिकायत करने के लिये कह दिया। जिसके बाद बालिका के परिजन उसे लेकर चले गये। वहीं इस मामले पर सीएमओ डा रामकिशन का कहना है कि मामला उनके संज्ञान में नहीं है,जानकारी मिली है जांच कराई जाएगी।

Published in Gorakhpur

RANCHI : धूम्रपान करते हुए सात छात्रों को पकड़ा गया. इसमें कुछ कम उम्र लड़कियां भी थीं. इन्हें चेतावनी देने के साथ ही अर्थ दंड भी लगाया गया. सख्ती देख सभी सिगरेट दुकानदार अपनी दुकानें बंद कर भाग गए. नेशनल टोबैको कंट्रोल प्रोग्राम के तहत पुरुलिया रोड में तंबाकू के खिलाफ अभियान चलाया गया. सर्जना चौक, सदर अस्पताल गली और अन्य इलाकों में चले इस अभियान में छह दुकानों को नियम का उल्लंघन करने के कारण आर्थिक दंड लगाया गया. इस दौरान सार्वजनिक स्थान पर धूम्रपान करते हुए सात छात्रों को भी पकड़ा गया. इसमें कुछ कम उम्र लड़कियां भी थीं. इन्हें चेतावनी देने के साथ ही अर्थ दंड भी लगाया गया.नेशनल टोबैको कंट्रोल प्रोग्राम के स्टेट नोडल पदाधिकारी डॉ ललित रंजन पाठक के नेतृत्व में छापेमारी करने गयी टीम ने एक शिक्षण संस्थान के प्राचार्य से भी मुलाकात की. टीम ने पाया कि शिक्षण संस्थान में कहीं भी तंबाकू निषेध संबंधी उचित चेतावनी बोर्ड नहीं लगा था. इस पर प्राचार्य को शीघ्र इसकी व्यवस्था करने को कहा गया.डॉ पाठक ने बताया कि अभियान के दौरान पाया गया कि कई दुकानों में नियम विरुद्ध सिगरेट बेचा जा रहा था. कई कम उम्र बच्चे (छात्र-छात्राएं) भी सिगरेट खरीद रहे थे. कुछ दुकानों में सिगरेट के ऐसे पैकेट भी मिले, जिन पर बिना चित्र के चेतावनी छपी थी. डॉ पाठक ने बताया कि सिगरेट व अन्य तंबाकू उत्पाद अधिनियम (कोटपा-2003) के विभिन्न प्रावधानों के तहत दुकानदारों व सिगरेट पीनेवालों पर कार्रवाई की गयी. अभियान के दौरान टीम ने बच्चों को सिगरेट बेचते महिला दुकानदार को भी पकड़ा. टीम ने न सिर्फ महिला दुकानदार पर आर्थिक दंड लगाया गया, बल्कि उसे यह समझाने का प्रयास भी किया कि कम उम्र के बच्चों को सिगरेट बेचना कानून अपराध है.टीम की सख्ती देख आसपास के सभी सिगरेट दुकानदार अपनी दुकानें बंद कर भाग गये. टीम ने अभियान के दौरान पकड़े गये छात्र-छात्राओं को भी समझाने की कोिशश की. इस कार्रवाई में अभियान के राज्य परामर्शी राजीव कुमार, कानून परामर्शी मो उमैर, वित्त परामर्शी नागेंद्र कुमार यादव व लोअर बाजार थाना की पुलिस ने सहयोग किया. अभियान के दौरान पकड़े गये छात्र-छात्राओं की भूमिका ने सोचने पर मजबूर कर दिया कि कहां जा रहे हमारे युवा? कुछ लड़के-लड़कियों ने तो तत्काल माफी मांगी और फिर सिगरेट को हाथ नहीं लगाने का वादा किया, वहीं कुछ ने तो पूरे अभियान को इस रूप में लिया मानों वे दंड देकर एहसान कर रहे. न चेहरे पर शर्मिंदगी का भाव और न ही शब्दों में हिचक. खास कर सिगरेट पीते पकड़ी गयी लड़की ने तो टीम के साथ कुछ ऐसा व्यवहार किया मानो टीम ने कोई गुनाह कर दिया हो. दंड के रूप में पैसे देते हुए भी उसके चेहरे पर गुस्से का भाव था. भुनभुनाते हुए दंड तो दे दिया, पर यह भी जता दिया कि वो तो सिगरेट जहां मन करे वहीं पीयेगी.राजधानी सहित पूरे राज्य में यह अभियान जारी रहेगा. जल्द ही सभी प्रतिष्ठानों व शैक्षणिक संस्थानों का भी निरीक्षण किया जायेगा और देखा जायेगा कि वहां बोर्ड सहित अन्य नियम का पालन किया जा रहा है या नहीं. ऐसा नहीं होने पर उक्त संस्थान पर भी दंड लगाया जायेगा.

Published in Gorakhpur
Page 1 of 5

Media News

  • Bollywood
  • Life Style
  • Trending
  • +18
Post by अंकिशा राय
- Feb 23, 2017
जी हां, यहां बात हो रही है दंगल गर्ल फातिमा सना शेख की। खबर है कि फातिमा को यशराज बैनर की फिल्म ठग्स ऑफ हिंदुस्तान के ...
Post by Source
- Feb 23, 2017
हर किचन में कुछ ऐसी चीजें मौजूद होती है। जो कि आपकी सेहत के साथ-साथ सौंदर्य के लिए भी काफी फायदेमंद ...
Post by सत्य चरण राय (लक्की)
- Feb 24, 2017
दिल्ली: ATM से निकले 2 हजार के चूरन वाले नोट, आरोपी गिरफ्तार Feb 2017 नई दिल्ली [जेएनएन]। राजधानी में एटीएम से 2000 ...
Post by Source
- Feb 09, 2017
लड़कियों का फेवरेट होता है मेकअप , मेकअप में भी लिपस्टिक होती है सब लड़कियों की फेवरेट । लेकिन क्‍या आप जानते हैं ...

Living and Entertainment

Newsletter

Quas mattis tenetur illo suscipit, eleifend praesentium impedit!
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…