वाराणसी सरकारी विद्यालय में बच्चो के भविष्य से हो रहा है।खिलवाड़ देखिये यह तस्वीर। क्लास के बच्चो को बाहर बैठाकर क्या करते है।बंद दरवाजा के अंदर ये प्रधानाध्यापक शैलेंद्र। वाराणसी आदमपुर थानाक्षेत्र इलाके के राजघाट काशी स्टेशन रोड स्थित एक प्राथमिक विद्यालय है जहां आये दिन दर्जनों बच्चो को प्रधानाध्यापक शैलेंद्र द्वारा क्लास से बाहर निकालकर गंदे गैलरी के जमीन पर बच्चो को बैठा दिया जाता है ।यह बच्चो के भविष्य से खिलवाड़ है ।आप इस तस्वीर में देख सकते है कि अगर ये बच्चे पढ़ने वाले है तो इन्हें बाहर इस तरह से आखिर क्यों बैठाया गया है ।और बाहर बैठाकर आये दिन क्लास रूम को अंदर से दरवाजा बंद करके क्या करते है।प्रधानाध्यापक शैलेंद्र वही विद्यालय परिसर के अंदर कुछ टीचरों का कहना है कि प्रधानाध्यापक शैलेंद्र पहले सहायक अध्यापक के पद पर कार्यरत थे अभी लगभग 15 दिनों से बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा इन्हें प्रधानाध्यापक बनाया गया है।और इनका इनके पत्नी से न्यायलय में मुकदमा विचाराधीन है।और मामला न्यायलय में विचाराधिन होते हुए एक सहायक अध्यापक को प्रधानाध्यापक कैसे बना दिया गया ये तो अधिकारी से बात करने पर ही पता चलेगा अधिकारी कैमरे के सामने कुछ बोलने को तैयार नहीं है।और इसी विद्यालय में एक महिला शिक्षामित्र है। नांम गोपनीय उनका उनसे पति से विवाद के कारण दोनों पति पत्नी अलग अलग हो गए है । तो विद्यालय में लोगो का कहना है।कि यह दोनों हमेशा इस बच्चो के साथ ऐसा करते है।कोई बोल नहीं पाता मना करने पर भी अपने मन के ही करते है।इस परिसर में लगभग काम करने वाले लगभग 15 सरकारी कर्मचारी है।मगर प्रधानाध्यापक शैलेंद्र किसी की भी नहीं सुनते है।

Published in Students

-3 लाख तक की आमदनी टैक्स फ्री होगी -3 से साढे तीन लाख तक इनकम पर 2500 रुपए टैक्स 2.5 से 5 लाख की आय पर 10 फीसदी की जगह 5 फीसदी इनकम टैक्स लगेगा   -2.50 लाख से 5 लाख तक आय पर 5 फीसदी टैक्स -धार्मिक डोनेशन पर टैक्स छूट घटाई गई -राजनीतिक दल 2000 तक ही नकद चंदा ले सकेंगे -राजनीतिक पार्टियां चेक या डिजिटल डोनेशन ले सकेंगी -ट्रांजैक्शन लिमिट तय करने के लिए आईटी एक्ट में बदलाव होगा -3 लाख से ज्यादा कैश ट्रांजैक्शन की इजाजत नहीं होगी -2 करोड़ तक बिक्री वाले दुकानों की आय 8 फीसदी की जगह 6 फीसदी मानी जाएगी -50 करोड़ तक टर्नओवर वाली कंपनियों को टैक्स में पांच फीसदी छूट -छोटी कंपनियों को टैक्स में 25 फीसदी की छूट -स्टार्ट अप के लिए कंपनियों को सात साल तक टैक्स में छूट -सस्ते घर की स्कीम में बदलाव किया गया -सस्ते घर, रीयल एस्टेट को बढ़ावा देने के लिए योजना में परिवर्तन -नोटबंदी की वजह से लोगों को अपनी आय ज्यादा बतानी पड़ी -नोटबंदी के दौरान 1.09 करोड़ खाते में 2.80 लाख करोड़ रुपए जमा हुए -टैक्स चोरी का भार ईमानदार टैक्स पेयर्स पर पड़ता है -2.7 लाख कंपनियों ने नुकसान दिखाया -1.72 लाख लोग ही 50 लाख से ज्यादा आय दिखाते हैं -सिर्फ 24 लाख लोग 10 लाख से ज्यादा आय दिखाते हैं -अब डाकघरों में भी बनेंगे पासपोर्ट, हेड पोस्ट ऑफिस अब पासपोर्ट ऑफिस की तरह काम करेंगे -हर साल 2500 करोड़ रुपए डिजिटल पेमेंट का लक्ष्य -जिनके पास डेबिट, क्रेडिट कार्ड नहीं वो आधार बेस्ड पेमेंट करेंगे -अब तक 125 लाख लोगों के मोबाइल में भीम ऐप्प -डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए भीम ऐप्प शुरू किया गया -नेशनल हाईवे के लिए 64,900 करोड़ रुपए -एलआईसी में वरिष्ठ नागरिकों को 8 फीसदी ब्याज दर तय -मेट्रो रेल के लिए नई नीति की घोषणा होगी -शेयर बाजार में आईआरसीटीसी बतौर कंपनी लिस्टेड होगी -आईआरसीटीसी के जरिए ट्रेन टिकट की बुकिंग पर सर्विस चार्ज नहीं लगेगा -इंटरनेट से रेलवे टिकट बुकिंग सस्ती -2019 तक सभी ट्रेन में बायो टॉयलेट लगाने का लक्ष्य है -पर्यटन, तीर्थ के लिए नई ट्रेन शुरू होगी -स्वच्छ रेल के लिए क्लीम माई कोच योजना शुरू की जाएगी -राष्ट्रीय रेल सुरक्षा के लिए एक लाख करोड़ रुपए का आवंटन -रेल यात्रियों की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा कोष बनाया जाएगा -रेलवे के लिए 1 लाख, 31 हजार करोड़ रुपए का आवंटन किया गया गहै -वरिष्ठ नागरिकों के लिए आधार कार्ड बेस्ट स्मार्ट योजना शुरू होगी -2017 तक कालाजार, 2020 तक खसरा को खत्म करने की योजना -2025 तक टीबी की बीमारी को खत्म करेंगे -श्रम कानूनों को सरल बनाया जाएगा -राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी बनाए जाएगी -झारखंड और गुजरात में दो नए एम्स बनाए जाएंगे -5 स्पेशल टूरिज्म जोन बनाए जाएंगे -2018 तक सभी गांवों में बिजली पहुंचाई जाएगी -गर्भवती महिलाओं को 6 हजार रुपए दिए जाएंगे -350 ऑनलाइन कोर्स की शुरूआत की जाएगी -2019 में बेघरों को एक करोड़ घर देने का लक्ष्य -दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना के लिए 4814 करोड़ खर्च करेंगे -2022 तक स्किल इंडिया के तहत पांच लाख लोगों को ट्रेनिंग दी जाएगी -5 साल में तालाबों को ठीक किया जाएगा -प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना में 27 हजार करोड़ खर्च करेंगे -मनरेगा के लिए अब 48 हजार करोड़ रुपए का प्रस्ताव -मनरेगा के लिए हमने ज्यादा पैसे दिए और ज्यादा खर्च भी हुए -प्रत्येक ग्रामीण परिवार को कम से कम 100 दिन के रोजगार की गारंटी -गरीबी मुक्त ग्राम पंचायत बनाने की सरकार की कोशिश होगी -सरकार ने भारत में कारोबार करने को और आसान बना दिया है -नाबार्ड के लिए 20 हजार करोड़ की अतिरिक्त राशि दी गई -नॉर्थ ईस्ट के किसानों को लोन देने में तरजीह दी जाएगी -देश को गरीबी से मुक्त कराने के लिए नए मिशन -कृषि विकास दर 4.1 फीसदी रहेगी -जीएसटी से देश को गति मिलेगी- जेटली -किसानों की आय पांच साल में दोगुनी होगी -टैक्स को लेकर ईमानदार व्यक्तियों का सम्मान -ग्रामीण क्षेत्रों के इंफ्रास्ट्रक्चर में ज्यादा निवेश की जरूरत -युवाओं और गरीबों को ज्यादा सुविधाएं देना हमारा लक्ष्य -खरीब, रबी फसलों की बुआई में बढ़ोतरी हुई -अच्छी फसल के लिए किसानों को सस्ते कर्ज मुहैया कराना जरूरी -रेल बजट का आम बजट के साथ विलय ऐतिहासिक -बजट इसलिए पहले पेश हुआ ताकि पैसे का पूरा इस्तेमाल हो -नोटबैन से डिजिटल इकॉनोमी में रफ्तार आई- -पेट्रोलियम की कीमतों में कमी आ सकती है -नोटबंदी का असर आनेवाले वित्तीय वर्ष में खत्म हो जाएगा -विश्व बैंक ने कहा है कि भारत की विकास दर 7.6 फीसदी रहेगी -महिला,मजदूर,किसान, पिछड़ों तक विकास पहुंचा है -नोटबंदी के बाद बहुत ज्यादा पैसा बैंकों में जमा हुआ है -नोटबंदी के बाद बैंक लोगों के सस्ते लोन दे रहे हैं -महंगाई दर छह फीसदी से नीचे ले आएं- जेटली -धीमी पड़ी अर्थव्यवस्था पटरी पर लौटेगी -भारत दुनिया का छठा सबसे बड़ा डिसइन्वेस्टमेंट करने वाला देश बना -दाल का उत्पादन बढ़ने की उम्मीद -कालेधन से लड़ाई लड़ रहे हैं- जेटली -सरकार विकास के रास्ते पर आगे बढ़ रही है -भारी उम्मीदों के साथ सरकार को जनादेश मिला -पहली बार महंगाई काबू में आई, कालेधन पर लगाम लगी -वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बजट पेश किया  

Published in Breaking News

सेना में सैनिकों के लिए वाट्सएप नम्बर जारी, सीधे जनरल रावत से कर सकेंगे शिकायत नई दिल्ली: सेना ने अपने सैनिकों के लिए एक वाट्सएप नम्बर जारी किया गया है, ताकि सैनिक अपनी समस्याएं सोशल मीडिया पर ले जाने की बजाय उसे सीधे सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत को पहुंचा सकें. यह कदम सेना, वायुसेना और केंद्रीय पुलिस बलों के कर्मियों की तरफ से श्रृ़ंखलाबद्ध वीडियो पोस्ट करने के बाद आया है. सैन्य कर्मियों ने उन विभिन्न स्थिति को लेकर वीडियो पोस्ट किये थे, जिसमें वे काम करते हैं. सैनिक 09643300008 पर शिकायत कर सकते हैं. अधिकारियों ने कहा कि सेना के भीतर एक शिकायत निवारण व्यवस्था है जो बहुत त्वरित है. एक अधिकारी ने कहा, ‘‘ अगर ऐसा कोई मामला आता है, जिसमें किसी सैनिक ने सभी शिकायत निवारण मंचों का इस्तेमाल कर लिया है और फिर भी वह असंतुष्ट है, तो वह सेना प्रमुख के कार्यालय से इस नए नम्बर के जरिये सम्पर्क कर सकता है.’’ इसके साथ ही इस पर कोई रोक नहीं होगी कि नम्बर पर किस तरह का संदेश, वीडियो या लिंक भेजा जाता है. पिछले दिनों कई जवानों ने की है शिकायतें बता दें कि पिछले कई दिनों से सेना की जवानों ने वीडियो जारी कर अधिकारियों और सुविधाओं को लेकर शिकायत की है. इनमें सबसे पहले बीएसएफ के जवान तेज बहादुर ने खराब खाना मिलने, सीआरपीएफ के जवान जीत सिंह ने सुविधाएं न मिलने, एसएसबी के एक जवान ने अधिकारियों पर तेल और राशन बेचने और सेना के जवान युग प्रताप सिंह ने घरों में अफसरों की तरफ से निजी कार्य कराने जैसे आरोप लगाए हैं.

उम्र महज 14 साल। 10 वीं क्लास की पढ़ाई। मगर काम वैज्ञानिकों जैसा कर दिया। तकनीक की मदद से ऐसा ड्रोन बनाया है, जिससे लड़ाई के मैदान में जमीन में बिछाई माइंस का पता आसानी से चल सकेगी। ड्रोन की मदद से ही लैंडमाइंस को डिएक्टिवेट कर सकेंगे। वाइब्रेंट गुजरात समिटि में जब छात्र ने इसका प्रजेंटेशन दिया तो सरकार ने पांच करोड़ की छात्र से डील की। हर्षवर्धन से यह करार गुजरात सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्यौगिकी विभाग ने की है तड़पते जवानों को देख हर्षवर्द्धन के दिमाग में ख्याल हर्षवर्द्धन जाला बताते हैं कि एक बार टीवी न्यूज चैनल पर लैंड माइन धमाकों में घायल जवानों को दिखाया जा रहा था। उसी समय बारूदी सुरंगों का सुराग लगाने वाली तकनीक ईजाद करने का ख्याल आया। 2016 से मैने ऐसे ड्रोन पर रिसर्च करना शुरू किया, जिससे बारूदी सुरंगों की पहचान की जा सके। हर्षवर्द्धऩ के मुताबिक ड्रोन बनाने के लिए आधा खर्च उनके परिवार ने तो बाकी गुजरात सरकार ने उठाया। ड्रोन की क्या है खासियत कैमरा हाई रिजॉलूशन की तस्वीरें भी ले सकता है। ड्रोन जमीन से दो फीट ऊपर उड़ते हुए आठ वर्ग मीटर क्षेत्र में तरंगें भेजेगा। तरंगें लैंड माइंस का पता लगाएंगी और बेस स्टेशन को उनका स्थान बताएंगी। ड्रोन में मैकेनिकल शटर वाला 21 मेगापिक्सल के कैमरे के साथ इंफ्रारेड, आरजीबी सेंसर और थर्मल मीटर लगा है। इस ड्रोन में 50 ग्राम का एक बम भी रखा है, जो इन सुरंगों को नष्ट करने के भी काम आता है।

Published in Technology
Page 1 of 4

Media News

  • Bollywood
  • Life Style
  • Trending
  • +18
Post by अंकिशा राय
- Feb 23, 2017
जी हां, यहां बात हो रही है दंगल गर्ल फातिमा सना शेख की। खबर है कि फातिमा को यशराज बैनर की फिल्म ठग्स ऑफ हिंदुस्तान के ...
Post by Source
- Feb 23, 2017
हर किचन में कुछ ऐसी चीजें मौजूद होती है। जो कि आपकी सेहत के साथ-साथ सौंदर्य के लिए भी काफी फायदेमंद ...
Post by सत्य चरण राय (लक्की)
- Feb 24, 2017
दिल्ली: ATM से निकले 2 हजार के चूरन वाले नोट, आरोपी गिरफ्तार Feb 2017 नई दिल्ली [जेएनएन]। राजधानी में एटीएम से 2000 ...
Post by Source
- Feb 09, 2017
लड़कियों का फेवरेट होता है मेकअप , मेकअप में भी लिपस्टिक होती है सब लड़कियों की फेवरेट । लेकिन क्‍या आप जानते हैं ...

Living and Entertainment

Newsletter

Quas mattis tenetur illo suscipit, eleifend praesentium impedit!
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…