पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की अध्‍यक्ष ममता बनर्जी को लेकर इन दिनों सोशल मीडिया में एक मैसेज खूब वायरल हो रहा है। पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की अध्‍यक्ष ममता बनर्जी एक बार फिर सुर्खियों में हैं। सोशल मीडिया पर इन दिनों ममता बनर्जी को लेकर एक मैसेज खूब वायरल हो रहा है। वायरल हो रहे इस मैसेज में लिखा है कि क्‍या ममता बनर्जी मुसलमान हैं ? क्‍या उनका असली नाम मुमताज मासामा खातून है। वायरल हो रहे इस मैसेज को लेकर अब सोशल मीडिया पर उनके विरोधियों और समर्थकों के बीच जंग छिड़ गई है। जबकि दूसरी ओर उनके जानकारी और तमाम लोगों का कहना है कि व्‍हाट्सअप ग्रुप पर वायरल हो रहा ये मैसेज कोरी अफवाह। उन्‍हें बदनाम करने के लिए ऐसा किया जा रहा है। जबकि इस बात की किसी के पास कोई पुख्‍ता जानकारी नहीं है जो ये दावा कर सके कि ममता मुसलमान हैं। लेकिन, ममता बनर्जी को लेकर ये मैसेज तेजी से सोशल मीडिया में हर ग्रुप, हर शख्‍स के पास पहुंचता जा रहा है। इसमें उनके मुसलमान होने और उनके असली नाम मुमताज मासामा खातून के अलावा ये भी सवाल किया जा रहा है कि क्या उन्होंने जानबूझकर रेल मंत्री पद पर रहते हुए हिन्दू तीर्थ स्थानों पर जाने वाली ट्रेनों को बंद कराने की कोशिश की थी। हालांकि कई मीडिया ग्रुप ने इस वायरल मैसेज की पड़ताल की है जिसमें ये कहा गया है कि उनकी पड़ताल में ये वायरल हो रहा है ये मैसेज पूरी तरह झूठ पर आधारित है। जिसके जरिए लोगों की धार्मिक भावनाओं को भी भड़काने की कोशिश की जा रही है। आईटीएन भी वायरल हो रहे इस मैसेज की कोई पुष्टि नहीं करता है। साथ ही लोगों को ये हिदायत भी देता है कि इस तरह के मैसेज से खुद को बचाएं। ममता बनर्जी को लेकर वायरल हो रहे मैसेज में ये बताया गया है कि उन्‍हें जितनी अच्‍छी बांग्‍ला आती है उतनी अच्‍छी ही उर्दू भी वो बोल लेती हैं। पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के राज में हिंदुओं के कथित अत्‍याचार का भी आरोप लगाया गया है। ममता बनर्जी को मुसलमान बताते हुए मैसेज में कहा गया है कि वो रोज नमाज पढ़ती हैं। लेकिन, पड़ताल में पाया गया है कि ये मैसेज पूरी तरह फर्जी है और सिर्फ लोगों की धार्मिक भावनाएं भड़काने के लिए ही प्रसारित किया जा रहा है। इस मैसेज में उनकी जो फोटो को इस्‍तेमाल किया गया है उस तरह की कई फोटो गूगल पर पहले से ही मौजूद हैं। ये फोटो ममता बनर्जी के तमाम मुस्लिम कार्यक्रमों में शरीक होने की हैं। जिसमें कुछ फोटो का इस्‍तेमाल वायरल हो रहे मैसेज में किया गया है। रेलवे बोर्ड के मौजूदा अ‍फसर और पूर्व अफसर भी इस बात को कोरी अफवाह बता रहे हैं कि ममता बनर्जी ने रेलमंत्री के पद पर रहते हुए हिन्दू तीर्थ स्थान पर जाने वाली ट्रेन को रोकने की कोशिश की थी। हालांकि इस मैसेज को लेकर सोशल मीडिया में खूब राजनीति भी रही है। वहीं दूसरी ओर लोगों से ये भी अपील की जा रही है कि वो इस तरह के मैसेज से परहेज करें। हालांकि मैसेज को लेकर ममता बनर्जी की जमकर खिंचाई भी की जा रही है। दरअसल, नोटबंदी और चिटफंड घोटाले में टीएमसी के सांसदों की गिरफ्तारी के बाद से ममता बनर्जी बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लगातार हमला कर रही हैं। जबकि उनके इन हमलों को देश का एक बड़ा वर्ग उनकी फ्रस्‍ट्रेशन करार दे रहा है।

कोलकाता: पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने खुलासा किया कि उन्हें ‘जान से मारने’ धमकी मिली है और उनसे मिदनापुर में 19 जनवरी को विद्यासागर विश्वविद्यालय की अंतर कालेज क्रिकेट प्रतियोगिता में भाग नहीं लेने के लिये कहा गया है. मिदनापुर के स्थानीय सूत्रों से पता चला है कि जेड आलम नाम के किसी व्यक्ति ने गांगुली की मां निरूपा के नाम पत्र लिखकर इस दिग्गज क्रिकेटर को इस कार्यक्रम से दूर रहने के लिये कहा है. गांगुली को कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बुलाया गया है. पत्र में लिखा गया है, ‘‘आपके बेटे को चेतावनी दी जाती है कि वह इस कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लें. यदि उसने यहां आने का दुस्साहस किया तो आप फिर उसका चेहरा नहीं देख पाओगी.’’ इसकी पुष्टि करते हुए गांगुली ने कहा, ‘‘मुझे सात जनवरी को पत्र मिला और मैंने पुलिस एवं आयोजकों को इसकी सूचना दे दी है.’’ गांगुली को विद्यासागर विश्वविद्यालय और जिला खेल संघ के संयुक्त प्रयास से आयोजित अंतर कालेज क्रिकेट टूर्नामेंट के फाइनल के लिये मुख्य अतिथि के रूप में बुलाया गया है. बंगाल क्रिकेट संघ के अध्यक्ष गांगुली ने हालांकि इस कार्यक्रम में शिरकत करने की बात को खारिज नहीं किया. उन्होंने कहा, ‘‘देखते हैं, अभी तक कोई फैसला नहीं किया गया है. अगर मैं वहां जाता हूं तो आप सभी को पता चल जायेगा. ’’ पश्चिम मिदनापुर जिले की एसपी भारती घोष ने हालांकि कहा कि उन्हें गांगुली को इस तरह से धमकी भरा पत्र मिलने के बारे में जानकारी नहीं है. उन्होंने कहा, ‘‘हमें इस बारे में सूचित नहीं किया गया है.’’ पत्र के पीछे का मकसद हालांकि पता नहीं चला है.

Published in National

ममता व मुलायम के खाते से 61 हजार रुपये की ऑनलाइन खरीदारी कर ली गयी। जी हां सही सुना आपने ये किसी राजनीतिक पार्टी के ममता, मुलायम नहीं है बल्कि ये ममता व मुलायम हलिया ब्लाक के ड्रमंडगंज गांव के है। दोनों को खाते से पैसा निकलने की जानकारी उस समय हुई जब सात दिन बाद वह इलाहाबाद बैंक ड्रमंडगंज शाखा से बुधवार को पैसा निकालने गये। दोनों ने मामले की तहरीर हलिया थाने में दे दी है। ड्रमंडगंज गांव निवासी मुलायम और उसकी पत्नी के फोन पर सात दिसंबर को नये नंबर से फोन आया। फोन करने वाला खुद को बैंककर्मी बताते हुए दोनों से एटीएम का चार अंको वाला गुप्त कोड पूछ लिया। दोनों ने फोन करने वाले के बातों पर विश्वास करते हुए एटीएम का गुप्त कोड बता दिया। पति.पत्नी जब बुधवार को इलाहाबाद बैंक शाखा ड्रमंडगंज पैसा निकालने पहुंचे तो पता चला की उनके खाते में पैसा ही नहीं है। इस संबंध में पूछने पर बैंक अधिकारियों के बताया कि उनके खाते से सात दिसंबर को 61 हजार रुपये की ऑनलाइन शॉपिंग की गयी है। इसमें ममता के खाते से 36 हजार रुपये और मुलायम के खाते से 25 हजार रुपये की ऑनलाइन खरीदारी हुई है। अब उनके खाते पैसा नहीं बचा है। अहरौरा नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन निर्मला सिंह आनंद ने पति.पत्नी को हलिया थाने ले जाकर तहरीर दे दिया है।

Published in Uttar Pradesh

ममता व मुलायम के खाते से 61 हजार रुपये की ऑनलाइन खरीदारी कर ली गयी। जी हां सही सुना आपने ये किसी राजनीतिक पार्टी के ममता, मुलायम नहीं है बल्कि ये ममता व मुलायम हलिया ब्लाक के ड्रमंडगंज गांव के है। दोनों को खाते से पैसा निकलने की जानकारी उस समय हुई जब सात दिन बाद वह इलाहाबाद बैंक ड्रमंडगंज शाखा से बुधवार को पैसा निकालने गये। दोनों ने मामले की तहरीर हलिया थाने में दे दी है। ड्रमंडगंज गांव निवासी मुलायम और उसकी पत्नी के फोन पर सात दिसंबर को नये नंबर से फोन आया। फोन करने वाला खुद को बैंककर्मी बताते हुए दोनों से एटीएम का चार अंको वाला गुप्त कोड पूछ लिया। दोनों ने फोन करने वाले के बातों पर विश्वास करते हुए एटीएम का गुप्त कोड बता दिया। पति.पत्नी जब बुधवार को इलाहाबाद बैंक शाखा ड्रमंडगंज पैसा निकालने पहुंचे तो पता चला की उनके खाते में पैसा ही नहीं है। इस संबंध में पूछने पर बैंक अधिकारियों के बताया कि उनके खाते से सात दिसंबर को 61 हजार रुपये की ऑनलाइन शॉपिंग की गयी है। इसमें ममता के खाते से 36 हजार रुपये और मुलायम के खाते से 25 हजार रुपये की ऑनलाइन खरीदारी हुई है। अब उनके खाते पैसा नहीं बचा है। अहरौरा नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन निर्मला सिंह आनंद ने पति.पत्नी को हलिया थाने ले जाकर तहरीर दे दिया है।

Published in Uttar Pradesh

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर गुरुवार को आरोप लगाया कि राज्य को अंधेरे में रखकर राजमार्ग पर दो पथकर वसूली चौकियों (टोल प्लाजा) पर सेना की तैनाती करने का आरोप लगाया। ममता ने कहा कि राज्य सरकार को सूचित किए बगर प्रदेश में सेना की तैनाती की गई है। टोल प्लाजा पर सेना तैनात की गई है जो गंभीर मुद्दा है।’ राज्य सचिवालय पर ममता ने कहा, “राज्य सरकार को सूचित किए बगैर दो टोल प्लाजा पर सेना तैनात की गई है। यह बहुत गंभीर स्थिति है, आपातकाल से भी खराब।” ममता बनर्जी ने राज्य सचिवालय में ही रुके रहने का फैसला करते हुए कहा कि जब तक टोल प्लाजा से सेना नहीं हटाई जाती, वह तब तक वहां से नहीं जाएंगी। उन्होंने जानना चाहा, “क्या यह संघीय व्यवस्था पर हमला है। हम विस्तार में जानकारी चाहते हैं। मुख्य सचिव केंद्र को पत्र लिख रहे हैं। अवसर मिलने पर इस मुद्दे को लेकर मैं राष्ट्रपति से बात करूंगी। क्या देश में अघोषित आपातकाल लागू कर दिया गया है?” मुख्यमंत्री ने कहा, “सेना हमारी संपति है। भाषा की खबर के अनुसार, हमें उनपर गर्व है। हमें बड़ी अपदाओं और साम्प्रदायिक तनाव के दौरान सेना की जरूरत होती है।” उन्होंने कहा, “मैं नहीं जानती कि क्या हुआ है। यदि छद्म अभ्यास है, तब भी राज्य सरकार को सूचित किया जाता है।” ममता ने दावा किया कि टोल प्लाजा पर सेना तैनात होने के कारण लोगों में अफरा-तफरी है। संपर्क करने पर एक रक्षा प्रवक्ता ने कहा कि सेना साल में दो बार देशभर में ऐसा अभ्यास करती है जिसका लक्ष्य सड़कों के भारवहन संबंधी आंकड़े एकत्र करना होता है, जिसके मुश्किल घड़ी में सेना को उपलब्ध कराया जा सके। विंग कमांडर एसएस बिर्दी ने कहा, “इसमें चौंकाने वाला कुछ भी नहीं है क्योंकि यह सरकारी आदेश के अनुसार होता है।”

Published in National
Page 1 of 2

Media News

  • Bollywood
  • Life Style
  • Trending
  • +18
Post by श्वेताभ रंजन राय
- Mar 26, 2017
जिस दिन कपिल शर्मा ने दुनिया के सामने अपने प्यार का इजहार किया उसी दिन दुनिया ने कपिल का वह अहंकारी रूप भी देखा। जिसे ...
Post by Source
- Mar 26, 2017
अक्सर गृहणियों की आदात होती है कि वह आटा बच जाने पर उसे फ्रिज में रख देती है ताकि बाद में उपयोग कर ...
Post by श्वेताभ रंजन राय
- Mar 26, 2017
अनुशासन हीनता के आरोप में निलंबित हुए आईपीएस अफसर हिमांशु कुमार की पत्नी ने भी उनपर गंभीर आरोप लगाए हैं। हिमांशु कुमार ...
Post by Source
- Mar 26, 2017
पुरूष-महिला के रिश्ते के दौरान संभोग एक ऐसी प्रक्रिया है जिसका आनंद हर कोई उठाना चाहता है। लेकिन इससे होने वाले दर्द की ...

Living and Entertainment

Newsletter

Quas mattis tenetur illo suscipit, eleifend praesentium impedit!
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…