गोरखपुर। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ 25 मार्च को शाम 5 बजे गोरखपुर पहुचेंगे। एयरपोर्ट से वह सीधे एम पी इंटर कालेज के प्रांगण जायेंगे जहाँ 25 हजार बीजेपी और हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं के बीच उनका सम्मान समारोह कार्य्रकम होगा। यह कार्यक्रम 1 से डेढ़ घंटे तक चलेगा जिसके बाद योगी मंदिर पहुचेंगे जहा बाबा गोरखनाथ का आशीर्वाद लेंगे और फिर गौशाला में जाकर गायों को देखेंगे। यहाँ से योगी अपने कार्यालय जायेंगे और कुछ खास लोगों से उनकी मुलाकात होगी और इसके बाद योगी पीठ के महत्वपूर्ण पेंडिंग कार्यों को निपटाएंगे। दूसरे दिन योगिराज गम्भीरनाथ की शताब्दी पुण्यतिथि कार्यक्रम में भाग लेकर दोपहर बाद लखनऊ रवाना हो जायेंगे। एयरपोर्ट से लेकर गोरखनाथ मंदिर तक के सभी रास्तों को होर्डिंगों से पाट दिया गया है, जबकि मंदिर के करीब के सभी रास्तों पर भगवा पताका फहराई जा रही है। मंदिर के अंदर कई जगह गेट बनाए जा रहे हैं। दूसरी तरफ प्रशासन ने भी पूरे परिसर की सुरक्षा कड़ी कर दी है। अभी से ही मंदिर में आने-जाने वालों की कड़ी जांच हो रही है। चप्पे-चप्पे पर जवान निगरानी में जुटे हैं। 

Published in Gorakhpur

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आगमन को लेकर नगर निगम की सक्रियता बढ़ गई है। निगम के जिम्मेदार मुख्यमंत्री के संभावित रूट एअरपोर्ट से गोरखनाथ मंदिर तक बुधवार से अतिक्रमण हटाएगा। नगर आयुक्त बीएन सिंह ने एसपी सिटी को पत्र लिखकर पुलिस बल की मांग की है। नगर आयुक्त ने बताया कि 22 से 24 मार्च तक अतिक्रमण अभियान चलाया जाएगा।

Published in Gorakhpur

तो गायत्री प्रजापति पहुंच ही गए जेल। तो अब मोदी के वायदे के अनुसार यूपी में होने लगा है शासन। 15 मार्च को सुबह-सुबह ही यूपी के पुलिस महानिदेशक जावेद ने टीवी चैनलों पर कहा कि गैंगरेप के आरोपी पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति को लखनऊ स्थित आवास से गिरफ्तार कर लिया है। दोपहर होते-होते प्रजापति को अदालत में पेश करने के बाद 14 दिनों के लिए जेल भेज दिया गया। यह वही यूपी पुलिस है, जिसे 27 फरवरी के बाद से ही प्रजापति नहीं मिले थे। हालांकि अभी यूपी में भाजपा की सरकार ने शासन नहीं संभाला है, लेकिन चुनाव के दौरान पीएम नरेन्द्र मोदी ने सुशासन का जो वायदा किया था, उसका असर अब होने लगा है। यूपी के डीजी जावेद भले ही गायत्री प्रजापति की गिरफ्तारी का दावा करंे, लेकिन हकीकत यह है कि 14 मार्च को जब पुलिस ने प्रजापति के बेटे अनुराग और भतीजे सुरेन्द्र को थाने बुलाकर पूछताछ की तो प्रजापति ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। भले ही पुलिस ने कागजों में 15 मार्च की सुबह गिरफ्तारी दिखाई हो। अब यह बात भी सामने आ गई है कि पूर्व सीएम अखिलेख यादव के दबाव की वजह से ही पुलिस प्रजापति को गिरफ्तार नहीं कर रही थी। चूंकि अब यूपी पुलिस को यह पता है कि अगले दो-तीन दिन में भाजपा की सरकार बन जाएगी, इसलिए पुलिस ने अभी से ही पीएम मोदी के वायदे के अनुरूप काम करना शुरू कर दिया है। इस पूरे मामले में पीडि़ता का बयान बेहद गंभीर है। पीडि़ता का कहना है कि प्रजापति और उसके साथियों द्वारा बलात्कार किए जाने तक को वह बर्दाश्त कर रही थी, लेकिन जब इन बलात्कारियों ने मेरी 14 साल की नाबालिग बेटी पर बुरी निगाह डाली तो मुझे मजबूरन पुलिस के पास जाना पड़ा। मैं नहीं चाहती थी कि मेरी बेटी भी इन दरिंदों की हवस का शिकार बने। सब जानते हैं कि अखिलेश के शासन में पीडि़ता की रिपोर्ट तक दर्ज नहीं हुई और जब सुप्रीम कोर्ट के आदेश से रिपोर्ट दर्ज करनी पड़ी तो प्रजापति को गिरफ्तार नहीं किया गया। यदि यूपी में भाजपा की सरकार नहीं बनती तो प्रजापति की गिरफ्तारी भी नहीं होती। एस.पी.मित्तल) (15-03-17)

Published in Public Opinion

प्रधानमंत्री का चल रहा है भाषण इस भाषण के अंतर्गत उन्होंने दिल्ली के बीजेपी मुख्यालय से निम्नलिखित बातें कहीं... मेरे प्यारे देशवासियों आपको होली के पावन पर्व पर ढेर सारी शुभकामनाएं भारत में हर त्योहार इस बात का संदेश लेकर आता है हमें बार-बार स्मरण कर आता है ,चाहे व्यक्ति के जीवन में हो समाज के जीवन में हो राष्ट्र के जीवन में हो बुराइयों को परास्त करते हुए अच्छाइयों पर बल देते हुए आगे बढ़ने की सीख हमारे हर उत्साह में देते हैं ... यह होली का पावन पर्व अभी हमारे भीतर अगर कोई कमियां हैं हमारे जीवन में कोई कमियां हैं राष्ट्र जीवन में कोई कमियां हैं उनहे परास्त करते हुए आगे बढ़ने का संकल्प लेते रहना चाहिए हर त्योहार में संकल्पों को द्वार आना चाहिए और होली का पावन पर्व भी हम सबको शक्ति दे सवा सौ करोड़ देशवासियों को शक्ति दे ताकि हम अच्छाइयों को ले करके मानव जाति के कल्याण के लिए आगे बढ़ते रहें साथियों लोकतंत्र में चुनाव सरकारी बनाने का काम तो होते ही हैं लेकिन लोकतंत्र में चुनाव एक लोक शिक्षण का महापर्व होता है लोकतंत्र के प्रति प्रतिबद्धता अधिकारी होती जाए लोकतंत्र के प्रति सम्मान मानवीय का विश्वास सिर्फ मतदान तक सीमित ना रहे राष्ट्र निर्माण उसकी भागीदारी बढ़ती चली भारत जैसे देश के लिए बहुत आवश्यक है जिस प्रकार से हमारे देश में मतदान का प्रतिशत बढ़ रहा है ...उत्साह उमंग के साथ लोकतंत्र के इस पर्व को मनाने में राजनीतिक दलों के सिवाय भी लोग जुड़ते चले जा रहे हैं मैं इसे मैं इसे लोकतंत्र की दृष्टि से शुभ संकेत मानता हूं और जब कभी कभार विजय होने के अनेक कारण होते हैं लेकिन अकल्पनीय भारी मतदान के बाद अकल्पनीय भारी विजय होता है तो वह पॉलिटिकल पंडितों के लिए विचार करने के लिए मजबूर कर रहा है.. मैं कल भी कुछ पोलिटिकल पंडितों को पढ़ रहा था इस देश में इमोशनल पर चुनाव का प्रभाव देखा है ,लेकिन इमोशनल केे सिवाय विकास एक कठिन से कठिन मुद्दा होता है चुनाव में बहुत मुश्किल हो मुद्दा होता है .. सब राजनीतिक दल पिछले 50 साल से इन मुद्दों को लेकर जाने से कतराते रहे हैं कभी उपयोग भी किया है तो एक पांच सिंह रिम आर के रुप में किया है इस चुनाव का मूल्यांकन होना बहुत जरूरी है कि इमोशनल यीशु ना होने के कारण भी इतना भारी मतदान विकास के मुद्दे पर देश का गरीब से गरीब व्यक्ति भी मतदान के लिए आगे आया एक नए हिंदुस्तान के दर्शन हो रहे हैं मुझे.... उत्तर प्रदेश जो कि भारत को दिशा देने की सर्वाधिक क्षमता रखता है वहां जब चुनाव के नतीजे आए हैं तो नए हिंदुस्तान की नई नीव के रूप में देख रहा हूं न्यू इंडिया नौजवानों का इंडिया.. महिला समूहों का न्यू इंडिया ऐसा न्यू इंडिया जो देश के गरीबों में कुछ पाने की इच्छा के बजाए कुछ करने की इच्छा के लिए बदलाव ला रहा है ...

Published in Breaking News

सभी प्रत्याशियों के दिलों की धड़कनें लगातार तेज होने वाली है क्योंकि गोरखपुर टाइम्स द्वारा सबसे सटीक नतीजे पांच राज्यों के कुछ ही क्षणों में आने वाले हैं जिसमें उत्तर प्रदेश ,उत्तराखंड, गोवा ,पंजाब और मणिपुर की मतगणना कुछ ही पल में होने वाली है ... चुनावी मतगणना में उत्तर प्रदेश पर सबकी निगाहें टिकी होंगी क्योंकि 403 सीटों के परिणाम के बाद नरेंद्र मोदी अखिलेश गठबंधन और मायावती किस साख दांव पर लगी हुई है

Published in Uttar Pradesh
Page 1 of 17

Media News

  • Bollywood
  • Life Style
  • Trending
  • +18
Post by श्वेताभ रंजन राय
- Mar 26, 2017
जिस दिन कपिल शर्मा ने दुनिया के सामने अपने प्यार का इजहार किया उसी दिन दुनिया ने कपिल का वह अहंकारी रूप भी देखा। जिसे ...
Post by Source
- Mar 26, 2017
अक्सर गृहणियों की आदात होती है कि वह आटा बच जाने पर उसे फ्रिज में रख देती है ताकि बाद में उपयोग कर ...
Post by श्वेताभ रंजन राय
- Mar 26, 2017
अनुशासन हीनता के आरोप में निलंबित हुए आईपीएस अफसर हिमांशु कुमार की पत्नी ने भी उनपर गंभीर आरोप लगाए हैं। हिमांशु कुमार ...
Post by Source
- Mar 26, 2017
पुरूष-महिला के रिश्ते के दौरान संभोग एक ऐसी प्रक्रिया है जिसका आनंद हर कोई उठाना चाहता है। लेकिन इससे होने वाले दर्द की ...

Living and Entertainment

Newsletter

Quas mattis tenetur illo suscipit, eleifend praesentium impedit!
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…