लखनऊ/ कानपुर। उत्तरप्रदेश में विधानसभा चुनाव के चलते प्रदेश में लागू आचार संहिता के दौरान पुलिस के द्वारा चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है जिसके चलते देर रात कानपुर में चेकिंग अभियान चल रहा था। उसी दौरान एक ऐसी कार सामने आई जिसका शीशा उतरते ही पुलिस वाले चौंक गए और एक-दूसरे को देखने लगे। लेकिन कार के अंदर बैठे उस युवक ने बड़ी शिद्दत के साथ अपनी कार की पूरी तलाशी लेने दी। आप सोच रहे होंगे कि ऐसा कौन-सा युवक है जिसे देख पुलिस वाले चौंक गए? तो आइए बताते हैं आपको कि कानपुर के नरौना चौराहे पर यातायात पुलिस चेकिंग अभियान चला रही थी। उसी दौरान ब्लैक कलर की इनोवा कार को पुलिस वालों ने हाथ दिया। हाथ देते ही इनोवा कार रुक गई। कार के रुकते जैसे ही पुलिस वाले पास में पहुंचे और उन्होंने शीशा उतरने पर देखा कि कार के अंदर भारतीय क्रिकेटर प्रवीण कुमार बैठे हुए हैं, तो एक बार तो पुलिस वालों ने उन्हें जाने को कहा लेकिन प्रवीण कुमार ने पुलिस वालों को अपनी ड्यूटी पूरी करने की बात कही और पुलिस वालों ने भारतीय क्रिकेटर प्रवीण कुमार की कार की तलाशी लेने के बाद उन्हें आगे जाने दिया। लेकिन उनके चले जाने के बाद पुलिस वालों के बीच क्रिकेटर प्रवीण कुमार चर्चा का विषय बने रहे। ट्रैफिक इंस्पेक्टर मनोज कुमार ने फोन पर बताया कि आदर्श आचार संहिता पालन के लिए देर रात तक नरोना चौराहे पर चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था। अभियान के दौरान कैंट की ओर से काले रंग की इनोवा आती दिखाई दी जिसे बैरियर के पास रोका गया। कार का बाएं तरफ का अगला शीशा खुला तो अंदर प्रवीण कुमार बैठे थे। टीआई ने भारतीय क्रिकेटर प्रवीण कुमार को पहचान लिया, लेकिन उन्होंने सीट बेल्ट के साथ अन्य कागजातों की चेकिंग भी करवाई और उन्होंने ड्राइवर से गाड़ी की डिग्गी खुलवाई और डिग्गी की तलाशी के बाद गाड़ी को आगे जाने दिया गया।

Published in Gorakhpur

उत्तर प्रदेश में शुरू हो चुकी राजनैतिक सरगर्मियों के बीच विभिन्न दल अपने अपने प्रत्यशियों के चयन में बहुत फूंक फूंक कर कदम रख रहे है | इस बार यह देखने में आ रहा है की मतदाता केवल पार्टी को न देख ,आने वाले प्रत्याशियों की कार्यप्रणाली , व्यव्हार और राजनैतिक समझ की भी परीक्षा ले रहे है | बात करे गोरखपुर ग्रामीण विधानसभा के बसपा प्रत्याशी राजेश पाण्डेय की ,तो उनकी लोकप्रियता का ग्राफ दिनों दिन नई उचाईयों को छूते जा रहे है | उन्होंने एक अलग तरीके से अपनी दिनचर्या बना रखी है | सुबह तडके की अपने समर्थकों के साथ क्षेत्र के दौरे पर निकल जाना और देर रात वापस आना उनकी दिनचर्या का एक अंग हो चुका है |क्षेत्र के दौरे पर वह गोरखपुर ग्रामीण विधानसभा के प्रत्येक गाँव / वार्ड में जा कर एक-एक लोगो से व्यक्तिगत मिल कर उनकी समस्याओं को सुनते है और अगर उसका निराकरण तत्काल संभव होता हैवो जनता को यह बताना भी नहीं भूलते है की “लोकतंत्र में जनता का क्या अधिकार और कर्तव्य होता है “ ,वो यह बताते है की सभी योजनाये जनता के लिए बनती है और जनता को यह पूरा अधिकार होता है की ,उन योजनाओं की प्रगति की जानकारी प्राप्त कर उसका स्वयं निरिक्षण करे | जनप्रतिनिधि जनता का सेवक होता है और उसका रिपोर्ट कार्ड जनता बनाती है | जनता की यही जागरूकता एक स्वस्थ् लोकतंत्र की स्थापना में महत्वपूर्ण होती है | यही कारण है की अभी तक जातिवाद के दम पर होने वाला गोरखपुर ग्रामीण विधानसभा का चुनाव व्यक्तिगत हो गया है , सभी धर्मों –सम्प्रदायों के लोगो का पूर्ण समर्थन राजेश पाण्डेय को मिल रहा है | गोरखपूर ग्रामीण विधानसभा के उर्दू बाजार मोहल्ले के खालिद नियाज़ हो या बेलिपार क्षेत्र के जितई पासवान ,सभी का एक ही कहना है की राजेश पाण्डेय राजनीती में मील का पत्थर साबित होंगे ,वो अपने लिए नहीं ,जनता के हितों के लिए चुनावी मैदान में है और निश्चित ही सफलता उनके कदम चूमने जा रही है ,छात्र राजनीती से ही उनकी सर्वसुलभता और लोगों के लिए सदैव खड़ा रहना उनकी फितरत रही है | अन्य नेताओं की तरफ वो किसी को टालते नहीं है ,सबकी सुनते है और सच्चाई के साथ खड़े रहते है |

Published in Gorakhpur

हम जानते हैं हमारे पास नेताजी हैं शिवपाल यादव लखनऊ/इटावा। लखनऊ से इटावा पहुंचे मुख्यमंत्री के चाचा शिवपाल यादव आज अपने समर्थकों से बात करते हुए भावुक हो गए। शिवपाल यादव ने कहा कि वैसे अब हमारा मन इस समय चुनाव लड़ने का कदापि नहीं था, लेकिन आप लोगों को भी छोड़ने का मन नहीं करता। शिवपाल ने कहा कि हमें पता है कि आप ही हमारी ओर से लोगों का मुकाबला करेंगे, इसलिए हम चुनाव जरूर लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि दुश्मन को कभी कमजोर मत समझना। बहुत सी बातें चलेंगी। बहुत से भितरघाती भी होंगे। भितरघातियों से बहुत सावधान रहने की जरूरत है। जो कुछ भी हुआ है, वह भितरघातियों की करतूत की वजह से हुआ है। शिवपाल ने भितरघातियों पर निशाना साधते हुए कहा कि हो सकता है कि उनके पास धन, बल और शक्ति हो लेकिन हम जानते हैं हमारे पास नेताजी हैं और आप लोग हैं। ऐसे लोगों से बहुत सचेत रहने की जरूरत है, अगर आपकी इच्छा है कि हम यहीं से चुनाव लड़े, तो हम यहीं से चुनाव लड़ेंगे और जिस तरीके से 2012 में बहुत से लोगों ने सरकार बनने के बाद फायदा उठाया, मलाई काटी ऐसे लोगों से सावधान रहने की बहुत जरूरत है। अभी एक महीना बचा है ऐसे में बहुत तेजी से काम करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि मैंने ऐसा कोई गलत काम नहीं किया, सिर्फ बेईमानी करने वालों का विरोध किया है। हम चाहते हैं कि गलत काम नहीं हो, मेहनत करने वालों को उनकी मेहनत का पूरा फल मिलना चाहिए। हम यह चाहते हैं कि सही काम हो। केवल मैंने यही बात कही और रखी थी इसी बात का मैंने विरोध किया था। हमारा विरोध का कोई नजरिया नहीं था और गलत काम करने का हमेशा विरोध करते हैं और करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में नेताजी के नाम पर लोग वोट देते हैं, उसे हमको हासिल करना है और हम ऐसा करके रहेंगे। जब नेताजी साथ है और आप लोग साथ हैं, तो फिर हम को किसी बात का गम नहीं है।

Published in Gorakhpur

इस बार चुनाव ही ना लड़ूं शिवपाल यादव लखनऊ- समाजवादी पार्टी के सीनियर नेता शिवपाल यादव ने गुरुवार को एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि मेरा मन तो कर रहा है इस बार मैं चुनाव ही ना लड़ूं। आपको बता दें कि पिछले तीन महीने से समाजवादी पार्टी में पारिवारिक और राजनीतिक कलह जारी है। चुनाव आयोग के फैसले के बाद अखिलेश को चुनावी चिह्न साइकिल मिल गई है। बीते दो दिन पहले नेताजी मुलायम सिंह यादव ने 38 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की थी। जिसमें शिवपाल यादव का नाम नहीं था। शिवपाल के इस बयान को उसी मसले से जोड़कर देखा जा रहा है। अभी ये कह पाना मुश्किल होगा कि शिवपाल चुनाव लड़ेंगे या नहीं। क्योंकि अभी सपा ने पहली ही लिस्ट जारी की है। आगे की लिस्ट में शिवपाल के नाम की संभावना हो सकती है।

Published in Gorakhpur

गोरखपुर- जाम की परेशानी तो जाने की नाम ही नही ले रही है कल रात शादी की लग्न मे गोरखनाथ पुल पर घण्टो परेशान रहे लोग भी फसे रहे इसको लेकर पुलिस प्रशाशन भी मूक दर्शक बानी हुई है

Published in Gorakhpur
Page 1 of 9

Media News

  • Bollywood
  • Life Style
  • Trending
  • +18
Post by Source
- Jan 21, 2017
वायरल रही Deepika Padukone की इन तस्वीरों के साथ किसी ने फ़ोटोशॉप करके की बेहद भद्दी हरकत, देखें क्या है मामला ...
Post by Source
- Jan 18, 2017
चावल के साथ आपने मसूर से चना और भी कई वेराइटी की दाल खाई होगी. प्रोटीन से भरी दाल आपके हेल्थ के लिए ...
Post by सत्य चरण राय (लक्की)
- Jan 22, 2017
"लखनऊ: चुनाव से पहले बहुजन समाजवादी पार्टी की मुखिया मायावती को अबतक का सबसे बड़ा झटका लगा है. बताया जा रहा है कि के एक ...
Post by Source
- Dec 23, 2016
कामेच्छा यदि किसी भी व्यक्ति में सामान्य लेवल से कम होती है तो जीवन में उसके लिए कई परेशानियां पैदा हो जाती हैं। ...

Living and Entertainment

Newsletter

Quas mattis tenetur illo suscipit, eleifend praesentium impedit!
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…