Published in Dharm

लखनऊ- चुनाव आयोग द्वारा उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव का कार्यक्रम घोषित करने के बाद कांग्रेस की राज्य चुनाव कमेटी ने आज उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया शुरू कर दी। लगभग 20 नाम उन सीटों पर तय हो गये हैं, जिन पर वर्तमान में पार्टी के विधायक हैं।ans उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर की अध्यक्षता में हुई एक बैठक में सीटों को लेकर विस्तार से चर्चा हुई। पार्टी की समन्वय समिति के अध्यक्ष प्रमोद तिवारी ने बताया कि वर्तमान विधायकों ने अपनी ही सीट पर पुन: चुनाव लडने की इच्छा जतायी, ऐसे में 20 सीटें तय कर दी गयीं। तिवारी ने बताया कि राज्य कमेटी को हर सीट के लिए तीन नामों का पैनल सौंपा गया था। इनमें बडी संख्या में महिलाएं और युवा शामिल हैं। सूची केन्द्रीय कमेटी को भेजी जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रत्याशियों के चयन के लिए दो बातों का ध्यान रखा जा रहा है। पहला जीतने की क्षमता और दूसरा पार्टी के प्रति वफादारी।

Published in Uttar Pradesh

यूपी चुनाव: मायावती ने जारी की उम्‍मीदवारों पहली लिस्‍ट लखनऊ: बसपा सुप्रीमो मायावती ने अगले माह हाेने वाले विधानसभा चुनाव केे लिए उम्‍मीदवारों की लिस्‍ट जारी की है। गुरुवार को मायावती ने पहले फेज और दूसरे फेज के लिए ये लिस्‍ट जारी की है। अगली लिस्‍ट शुक्रवार को जारी होगी। बता दें कि मायावती 403 सीटों पर प्रत्याशियों की लिस्ट फाइनल कर चुकी हैं। जिसमें 87 टिकट दलित वर्ग के लोगों को दिया गया है। 97 टिकट मुस्लिमों, अन्य पिछड़े वर्ग के 106 लोगों, अपर कास्ट समाज के 113 प्रत्याशियों को टिकट दिया है। मायावती ने ब्राह्मण समाज के प्रत्याशियों को 66 टिकट, क्षत्रिय समाज के लोगों को 36 टिकट, वैश्य, पंजाबी समाज के लोगों को 11 टिकट दिये हैं। इस लिस्‍ट में सहरानपुर के बेहट से मो. इकबाल, नकुड़ से नवीन, सहारनपुर नगर से मुकेश दीक्षित, सहारनपुर ग्रामीण से जगपाल सिंह को टिकट दिया गया है। सहारनपुर देवबंद से माजिद अली, मनिहारन से रवीद्र कुमार, गंगोह से महिपाल सिंह, शामली के कैराना से दिवाकर देशवाल को टिकट दिया गया है। वहीं, थाना भवन से अब्दुल रॉव वारिस, शामली से मो.इस्लाम, मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना से सैयदा बेगम, चरथावल से नूर सलीम राणा को टिकट दिया गया है। पुरकाजी से अनिल कुमार,मुजफ्फरनगर से राकेश शर्मा,खतौली से सिवान सिंह सैनी,मीरापुर से नवाजिस आलम खां को मिला टिकट दिया है। मेरठ के सिवाल खास से नदीम अहमद, सरधना से हाफिज इमरान, हस्तिनापुर से योगेश वर्मा, किठौर से गजराज सिंह, कैंट से सतेंद्र सोलंकी को टिकट दिया गया है। मेरठ शहर से पंकज जौली, दक्षिण हाजी मो.याकूब, बागपत छपरौली से राजबाला, बड़ौत से लोकेश दीक्षित, बागपत से अहमद हमीर को बसपा से टिकट दिया गया है। गाजियाबाद के लोनी से हाजी जाकिर अली, मुरादनगर से सूदनकुमार, साहिबाबाद से अमर पाल शर्मा, गाजियाबाद से सुरेश बंसल को टिकट दिया गया है। मोदी नगर से वहाब चौधरी, हापुड़ धौलाना से अस्लम अली, हापुड़ से श्रीपाल सिंह, गढ़ मुक्तेश्वर से प्रशांत चौधरी को टिकट दिया गया है।गौतमबुद्ध नगर के नोएडा से रवीकांत मिश्रा, दादरी से सतबीर सिंह, जेवर से वेदराम भाटी, बुलंदशहर सिकंदराबाद से हाजी इमरान को बसपा से टिकट दिया गया है। बुलंदशहर से मो.अलीम खां, स्याना से दिलनवाज खां, अनूपशहर से गजेंद्र सिंह, डिबाई से देवेंद्र भारद्वाज, शिकारपुर से मुकुल उपाध्याय को टिकट दिया गया है। बुलंदशहर खुर्जा से अर्जुन सिंह, अलीगढ़ की खैर से राकेश कुमार मौर्या, बरौली से जयवीर सिंह, अतरौली से इलियाज चौधरी को टिकट दिया गया है। वहीं, छर्रा से मो.सगीर, कोल से राम कुमार शर्मा, अलीगढ़ से मो.आरिफ, इग्लास से राजेंद्र कुमार, हाथरस सदर से ब्रजमोहन राही को टिकट दिया गया है। सादाबाद से रामवीर उपाध्याय को बसपा से टिकट, सिकंदरा राऊ से बनी सिंह बघेल को टिकट दिया गया है। इसके अलावा कासगंज से अजय चतुर्वेदी, अमापुर से देवप्रकाश, पटियाली से धीरेंद्र बहादुर, एटा के अलीगंज से रामकिशोर यादव, एटा से गजेंद्र सिंह चौहान को टिकट दिया गया है। मारहरा से शलभ बाबू महेश्वरी, जलेसर से मोहन सिंह, मथुरा के छाता से मनोज पाठक, मांट से श्याम सुंदर शर्मा, गोवर्धन से राजकुमार रावत को टिकट दिया गया है। मथुरा से योगेश द्विवेदी, बलदेव से प्रेम चंद्र कर्दम, आगरा के एत्मादपुर से डॉ. धर्मपाल सिंह, आगरा कैंट से गुटियारी लाल दुबेश को टिकट दिया गया है। आगरा दक्षिणी से जुल्फिकार अहमद, आगरा उत्तरी से ज्ञानेंद्र कुमार गौतम, आगरा देहात से काली चरण सुमन, फतेहपुर सीकरी से सूरजपाल सिंह को टिकट दिया गया है। आगरा खैरागढ़ से भगवान सिंह कुशवाहा, फतेहाबाद से ओमेश सैथिया, बाह से मधूसूदन शर्मा, फिरोजाबाद के टूंडला से राकेश बाबू को टिकट दिया गया है। जसराना से शिवराज सिंह यादव, फिरोजाबाद से खालिद नसीर, शिकोहाबाद से शैलेश कुमार यादव, सिरसागंज से राघवेंद्र सिंह को टिकट दिया गया है। बिजनौर नजीबाबाद से जमील अहमद अंसारी, नगीना से वीरेंद्रपाल सिंह, बढ़ापुर से फहद यजदानी, धामपुर से मोहम्मद गाजी, नहटौर से विवेक सिंह को टिकट दिया गया है।

Published in Breaking News

विषय:- एक युवा का कोर्ट और चुनाव आयोग से गम्भीर प्रश्न:-जब धर्म और जाति पर वोट नही मांग सकते तो आरक्षित सीटें क्यो?? अभी दो दिन पहले सुप्रीम कोर्ट द्वारा एक आदेश पारित हुआ की कोई भी पार्टी या प्रत्याशी धर्म जाती एवं भाषा के आधार पर वोट नही मांग सकता और अगर ऐसा करता है तो उसको दण्ड दिया जायेगा!! मै पुनीत पांडेय सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का स्वागत करते हुए सम्मान करता हु!! जनहित में ये फैसला बहुत ही अच्छा साबित होगा!! पर मेरी आपत्ति चुनाव आयोग और कोर्ट दोनों से है जब कोई व्यक्ति धर्म या जाति के नाम पर वोट नही मांग सकता तो वो धर्म या जाति के नाम पर चुनाव लड़ कैसे सकता है?? कल हुए चुनावी समर की घोषणा में चुनाव आयुक्त जी ने कहा कि लगभग 600 सीटो पर चुनाव एक साथ होंगे जिसमे से 133 सीट आरक्षित सीट घोषित किये गए है!! इन आरक्षित सीटो पर सिर्फ आरक्षित व्यक्ति यानी किसी विशेष सम्प्रदाय या जाति का ही व्यक्ति चुनाव लड़ सकता है!! क्या चुनाव आयोग को इस पर रोक नही लगानी चाहिए थी ?? क्या सुप्रीम कोर्ट को इस पर ध्यान नही देना चाहिए और इस प्रकार के आदेश को निरस्त करना चाहिए?? क्या ये प्रक्रिया धर्म और जाति के राजनीति को बढ़ावा नही देगा!! द्वारा:-पुनीत पांडेय युवा नेता ,गोरखपुर

Published in Public Opinion

सपा में टूट के पीछे बीजेपी का हाथ, चोर रास्ते से पाना चाहती है सत्ता: कांग्रेस नई दिल्ली। समाजवादी कुनबे की कलह बढ़कर पार्टी में फूट तक जा पहुंची। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और राम गोपाल यादव को 6 साल के लिए सपा से बाहर किए जाने के बाद दूसरे दल इस पर अपनी राय जाहिर कर रहे हैं। कांग्रेस जहां इसे बीजेपी की चाल बता रही, वहीं बीजेपी का कहना है कि यह पारिवारिक कलह है। यूपी बीजेपी अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि मुझे लगता है सुनियोजित तरीके से इसे आगे बढ़ाया जा रहा है। अराजकता का वातावरण है। अगर फैसला लिया गया तो वापस लेना समझ में नहीं आता है। अभी पहले भी निकाला गया था रामगोपाल यादव को। जब निकाला था तो वापस क्यों लिये। मुलायम सिंह वरिष्ठ नेता हैं। अपनी असफलता से ध्यान कैसे हटे उसका प्रयास है। वहीं, यूपी में बीजेपी के बड़े नेता योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नैतिकता ये कहती है कि अखिलेश को एक पल सत्ता में बने रहने का अधिकार नहीं है। अपनी असफलता छुपाने के लिए बहुत तरीके से ये परिवारिक विवाद को सामने लाया गया है। सत्ता प्रायोजित आतंक का माहौल व्याप्त है। समाजवादी पार्टी की सरकार लगातार असफल रही है। नैतिकता ये कहती है तुरंत अखिलेश यादव को स्वयं इस्तीफा देना चाहिए। सपा में फैले कलह के बीच कांग्रेस समाजवादी पार्टी बंटवारे के पीछे बीजेपी का हाथ बताया है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि समाजवादी पार्टी को अंतर कलह पर निर्णय स्वयं करना है। जहां उत्तर प्रदेश में एक चुनी हुई सरकार है वहां अस्थिरता की स्थिति पैदा होती है क्योंकि बीजेपी चोर दरवाजे से सत्ता पर काबिज होना चाहती है। वहीं, भाजपा नेता श्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि परिवार केंद्रित राजनीतिक पार्टी में अगर परिवार में दरार पड़ती है तो पार्टी भी अलग-थलग पड़ जाती है। यूपी के लोगों के बीच में अखिलेश लहर पहले ही खत्म हो चुकी है, अब उन्हें पार्टी से बाहर निकाले जाने से ज्यादा प्रभाव पड़ने वाला नहीं है। जेडीयू नेता शरद यादव ने इस पारिवारिक कलह पर कहा कि ये स्थिति बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। हालांकि, यह उनका आंतरिक मामला है। बीजेपी नेता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि जो कुछ घटित हुआ है वो समाजवादी पार्टी के चरित्र में विद्यमान है। मुलायम सिकुड़ते चले गये। जब सरकार बनी तो सिर्फ परिवार के नेता रह गये। अब न बेटा के नेता रहे न भाई के नेता रहे। न बाप बड़ा न भैया। पूरा तंबु ही उलट गया है। बीजेपी नेता प्रेम शुक्ला ने कहा कि क्या अखिलेश के पास विधायक दल में बहुमत है। अब अखिलेश के पास मुख्यमंत्री पद पर बने रहने का अधिकार है या नहीं, यह संवैधानिक प्रश्न है। एनसीपी नेता तारिक अनवर ने कहा कि मुलायम सिंह की बहुत बड़ी ये भूल है। पार्टी के अंदर ऐसा विवाद खड़ा होना न उनके हक मे हैं न पार्टी के हक में हैं। पता नहीं क्या कारण रहा कि उन्हें अपने ही बेटे के खिलाफ कारवाई करनी पड़ी। ये दुखद है। पिछले दो महीने से खबर आ रही थी शिवपाल जी और अखिलेश के बीच दूरी बढ़ गयी है। मुलायम ने टिकट बंटवारे में मुख्यमंत्री का विश्वास में लेना चाहिए। जो मुख्यमंत्री बनता है या जिसे बनाया जाना है उसे विश्वास में लेना चाहिए। लगता है मुलायम पर दवाव है और वो अखिलेश को विश्वास में लेने में असफल रहे। स्पेशल रिपोर्ट हिमांशु द्विवेदी गोरखपुर

Page 1 of 2

Media News

  • Bollywood
  • Life Style
  • Trending
  • +18
Post by Source
- Jan 18, 2017
जेएनयू में देशद्रोही नारों के समर्थन में रही बंगाल की ये अभिनेत्री आजकल शूर्खियो में हैं मगर इस बार ये अपने हॉट फोटोशूट ...
Post by Source
- Jan 18, 2017
चावल के साथ आपने मसूर से चना और भी कई वेराइटी की दाल खाई होगी. प्रोटीन से भरी दाल आपके हेल्थ के लिए ...
Post by Source
- Jan 20, 2017
पिछले कुछ महीनों से सोशल मीडिया और वॉट्सऐप ग्रुप्स पर एक लड़की के डांस वीडियो काफी शेयर किया जा रहा है। वीडियो में एक ...
Post by Source
- Dec 23, 2016
कामेच्छा यदि किसी भी व्यक्ति में सामान्य लेवल से कम होती है तो जीवन में उसके लिए कई परेशानियां पैदा हो जाती हैं। ...

Living and Entertainment

Newsletter

Quas mattis tenetur illo suscipit, eleifend praesentium impedit!
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…