Breaking News

Breaking News (971)

यू पी एटा एटा से बड़ी खबर यूपीः एटा में दर्दनाक सड़क हादसा, 25 स्कूली बच्चों की मौत उत्तर प्रदेश के एटा जिले में दर्दनाक सड़क हादसा हुआ है। एटा के अलीगंज इलाके में एक स्कूल बस हादसे का शिकार हुई है। हादसे में अब तक 25 स्कूली बच्चों के मरने की खबर सामने आ रही है, जबकि 40 बच्चों के घायल होने की खबर है।    हादसा स्कूल बस और ट्रक में टक्कर होने से हुआ। जेएस विद्या पब्लिक स्कूल की बस में एक ट्रक ने टक्कर मार दी, हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। आपको बता दें कि ट्रक बालू से भरा था।  बताया जा रहा है कि कोहरे की वजह से यह हादसा हुआ है। बस में 50-60 बच्चे सवार थे। बताया जा रहा है कि स्कूली बच्चों से भरी यह बस बालू से लदे ट्रक से टकरा गई। खबर के मुताबिक सरकारी अस्पताल में 20-25 बच्चे भर्ती हैं। कुछ बच्चों को उनके अभिभावक इलाज के लिए अपने साथ किसी दूसरे अस्पताल ले गए हैं। कुछ घायलों को आगरा और अलीगढ़ भेजा जा रहा है। इस हादसे में स्कूल की बड़ी लापरवाही सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि प्रशासन ने 20 तारीख तक सभी स्कूल बंद रखने का आदेश दिए हैं इसे बावजूद स्कूल खुला था। प्रदेश के डीजीपी जावीद अहमद ने हादसे को लेकर किया ट्वीट कर दुख जताया है और हादसे के दोषियों पर सख्त कानूनी कार्रवाई के दिए निर्देश दिए हैं।

AK-47 से मोतिहारी में डबल मर्डर पर आक्रोशित हुए लोग, शव को सड़क पर रखकर कर रहे हैं प्रदर्शन मोतिहारी/पकड़ीदयाल : मोतिहारी में हुए हत्या के विरोध में लोगों ने सड़क जाम कर दिया है. आक्रोशित लोग शव को सड़क पर रखकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. सूचना के मुताबिक कुछ लोग शव को सड़क पर ही जलाने की सोच रहे हैं. बाजार की सभी दुकानें बंद हैं और लोग सड़क पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. बुधवार को भीड़-भाड़वाले पकड़ीदयाल बाजार क्षेत्र में बाइक सवार अपराधियों ने अंधाधुंध एके 47 से फायरिंग कर दो की हत्या कर दी थी. घटना में दो अन्य गोली लगने से गंभीर रूप से घायल हुए थे. उनका इलाज स्थानीय रहमानिया नर्सिंग होम चल रहा है. घटना बुधवार की देर शाम पकड़ीदयाल सेखपुरवा पथ स्थित जायसवाल ट्रेडिंग गला दुकान पर घटी थी. घटना को अंजाम देने के बाद बाइक सवार दो अपराधी सेकपुरवा बाजार की ओर भागे थे. जानकारी के अनुसार पकड़ीदयाल नगर पंचायत उपाध्यक्ष मनोज प्रसाद, व्यवसायी चुमन प्रसाद स्वर्णकार सहित दो पलदार राधेश्याम प्रसाद व सुबोध पासवान दुकान पर बैठक पर आपस में बात कर रहे थे. इसी बीच बाइक सवार अपराधियों ने फायरिंग शुरू कर दी. इनमें जायसवाल ट्रेडिंग के चुमन प्रसाद की मौत अस्पताल आने के क्रम में हो गयी. वहां व पलदार सुबोध पासवान ने इलाज के क्रम में दम तोड़ लिया. मृत पलदार पकड़ीदयाल का था. जो रोज की तरह चुमन प्रसाद की दुकान पर काम करने गया था. नप उपाध्यक्ष मनोज प्रसाद का खैनी का थोक व्यवसाय है जो अपनी दुकान से आकर चुमन प्रसाद की दुकान पर बैठे थे. इस बीच अपराधी बाइक से आ धमके. फायरिंग करने लगे. स्थानीय लोगों की मानें, तो अपराधी एके 47 चला रहे थे. गोली से दीवारों पर कई छिद्र बन गये हैं. कुछ कुर्सियां भी टूटी हैं. घटना के बाद आनन-फानन में पुलिस व स्थानीय लोगों के सहयोग से मोतिहारी रहमानिया

उत्तर प्रदेश के एटा में गुरुवार सुबह एक दर्दनाक सड़क हादसे में 15 बच्चों की मौत हो गई जबकि तीन दर्जन से ज्यादा बच्चे घायल हैं जिन्हें अस्पताल रेफर किया गया है. हादसा अलीगंज थाना क्षेत्र के असदपुर गांव के समीप हुआ जब जेएस पब्लिक स्कूल बस की आमने सामने ट्रक से टक्कर हो गई. हादसा इतना जबरदस्त था कि बस के परखच्चे उड़ गए. हादसे की वजह घने कोहरे को बताया गया है. सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को हॉस्पिटल पहुंचाया है जहां कई बच्चों की हालत गंभीर बतायी जा रही है. कहा जा रहा है कि मौत का आंकड़ा बढ़ सकता है. गंभीर रूप से घायल बच्चों को अलीगढ रेफर किया गया है. इस बीच मृतक बच्चों के परिवार में कोहराम मचा हुआ है. मौके पर डीएम शंभुनाथ, एसएसपी और अन्य आला अधिकारी मौके पर मौजूद हैं. बताया जा रहा है की ठण्ड की वजह से स्कूल में छुट्टी के आदेश थे. इसके बावजूद स्कूल खुला हुआ था.

बरदह आज़मगढ़ सीओ लालगंज श्यामसुंदर सिंह के नेतृत्व में इस्पेक्टर बरदह प्रदीप चौधरी बरदह पुलिस ठेकमा बाजार दरियापुर बसही बेला खास ईरानी सरायमोहन समेत थाना क्षेत्र के कई गाँवो में पुलिस बल के साथ फ्लैग मार्च निकाला इस दौरान लोगो को शांति ढंग से मतदान करने की अपील की और लोगो को क्षेत्र अशांति फलाने वालो के खिलाफ कड़ी क़ानूनी करवाई की जायेगी इस दौरान एसआई दरोगा मनीष उपाध्याय ,ठेकमा चौकी ईंचाज मदन पटेल समेत पुलिस मौजूद रहे इसी क्रम थाना क्षेत्र के कई बूथो का भी निरीक्षण भी किया

काले हिरण के शिकार मामले से जुड़े करीब 18 साल पुराने आर्म्स एक्ट केस में आज जोधपुर सीजेएम कोर्ट ने सलमान खान को बरी कर दिया, बॉलीवुड सुपरस्टार अपनी बहन अलवीरा के साथ कोर्ट में मौजूद थे। सलमान के कोर्ट में पहुंचने के कुछ ही मिनटों के भीतक अदालत ने उनके हक में फैसला सुना दिया। इससे पहले सलमान होटल में ही बैठे थे, जबकि उनकी बहन अलवीरा सात वकीलों के साथ कोर्ट पहुंची थी, नाराज जज ने वकीलों से कहा कि आधे घंटे के भीतर मुवक्किल को पेश किया जाए, नहीं तो फैसला दोपहर बाद सुनाया जाएगा। वकील ने कहा कि सलमान को संदेह का लाभ मिला। खुश वकीलों ने तुरंत फोन कर उनके पिता सलीम खान को खुशखबरी सुनाई। कोर्ट के बाहर सलमान प्रशंसकों का जमावड़ा लगा हुआ है, फैसला हक में आते ही वो लोग जश्न मनाने लगे। सलमान के खिलाफ आर्म्स एक्ट की धारा 3/25 और 25 के तहत मामला चल रहा था, यदि इस एक्ट की पहली धारा के तहत उन्हें दोषी ठहराया जाता, तो उन्हें अधिकतम 3 साल और दूसरी धारा के तहत दोपी पाया जाता, तो 7 सात साल कैद की सजा हो सकती थी, लेकिन कोर्ट ने उन्हें बरी कर दिया। आर्म्स एक्ट की इन्हीं धाराओं के तहत दोषी पाये जाने पर संजय दत्त को 6 साल की सजा सुनाई गई थी, जो फिलहाल अपनी सजा पूरी कर आजाद घूम रहे हैं। राजस्थान में फिल्म हम साथ-साथ हैं की शूटिंग के दौरान सुपरस्टार सलमान खान, अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे, तब्बू, नीलम और कई फिल्म कलाकारों पर दुर्लभ काले हिरण के शिकार का आरोप लगाया गया था, दो अक्टूबर 1998 को सलमान समेत सभी आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कराया गया था, दर्ज मामले में कहा गया था कि 28 सितंबर 1998 की आधी रात को राजस्थान के मथानिया और भवाद गांव में काले हिरण का शिकार किया गया था। 12 अक्टबूर 1998 को सलमान को गिरफ्तार किया गया था, लेकिन फिर 15 अक्टूबर को उन्हें जमानत दे दी गई थी, फिर उन्हें 17 अक्टूबर को जेल से रिहा कर दिया गया था।

पंजाब विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जोर-शोर से जुटी आम आदमी पार्टी (आप) को तगड़ा झटका लग सकता है। एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक आप के नेता कुमार बीजेपी में शामिल हो सकते है। ऐसा माना जा रहा है कि विश्वास को आगामी यूपी विधानसभा चुनाव में उतारा भी जा सकता है। विश्वास साहिबाबाद की सीट से चुनाव लड़ना चाहते हैं। बीजेपी सूत्रों ने बताया कि कुमार विश्वास के साथ बातचीत अंतिम चरण में है और इस बारे में फैसला लिए जाने में ज्यादा देर नहीं की जाएगी क्योंकि यूपी चुनाव के लिए प्रक्रिया पहले ही शुरू हो चुकी है। इस बारे में औपचारिक ऐलान से पहले विश्वास बीजेपी चीफ अमित शाह से मुलाकात कर सकते हैं। यह मुलाकात बीजेपी के लखनऊ स्थित यूपी ऑफिस में हो सकती है। विश्वास ने आप के टिकट पर अमेठी लोकसभा सीट से राहुल गांधी और स्मृति ईरानी के खिलाफ चुनाव लड़ा था। अब वह गाजियाबाद जिले की साहिबाबाद सीट से विधानसभा चुनाव लड़ने को इच्छुक हैं। दरअसल सूत्रों के हवाले से खबर मिल रही है कि आप पार्टी विश्वास को साइड लाइन कर रही है। गोवा में भी विश्वास पिछले साल दिसंबर के बाद से नजर नहीं आए और उनका नाम पंजाब विधानसभा के स्टार प्रचारकों की लिस्ट से भी गायब है, ऐसे में संभावना को बल मिल रहा है कि विश्वास अपनी राजनीतिक जमीन तलाशने के लिए भाजपा का सहारा ले सकते हैं। हालांकि इस विवाद के सामने आते ही आप के प्रवक्ता और पंजाब के प्रभारी संजय सिंह ने इसे खारिज कर दिया था।उन्होंने कहा था कि विश्वास को लेकर पार्टी में कोई मतभेद नहीं है। कुमार विश्वास गोवा में चुनाव प्रचार की कमान संभालेंगे। ऐसे में देखना ये भी होगा कि गृह मंत्री राजनाथ सिंह के बड़े बेटे पंकज सिंह को बीजेपी कहां से टिकट देगी। क्योंकि गाजियाबाद की साहिबाबाद सीट से पहले पंकज को उम्मीदवार माना जा रहा था। ऐसे में अगर कुमार विश्वास को बीजेपी ने साहिबाबाद सीट सौंप दी तो पंकज कहां से चुनाव लड़ेंगे। कयास ये भी लगाए जा रहे हैं कि पंकज सिंह को चंदौली या नोएडा से बीजेपी चुनावी मैदान में उतारे।

दो वरिष्ठ आईपीएस अधिकारियी हुए हमेशा के लिए बर्खास्त । सरकार ने दो वरिष्ठ आईपीएस अधिकारियों को ‘काम में कोताही करने’ के कारण हमेशा के लिए बर्खास्त कर दिया है। ऐसी कार्रवाई करीब दो दशक बाद की गई है। गहन आकलन में पाया गया कि कथित तौर पर ‘काम में कोताही करने’ के कारण वे सेवा में बने रहने ‘योग्य नहीं’ हैं। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि केंद्र शासित प्रदेश कैडर के 1998 बैच के अधिकारी मयंक शील चौहान और छत्तीसगढ़ कैडर के 1992 बैच के अधिकारी राजकुमार देवांगन को अखिल भारतीय सेवा (मृत्यु सह सेवानिवृत्ति लाभ) नियम — 1958 के तहत ‘‘समय से पहले सेवानिवृत्ति’’ दे दी गई है। दोनों अधिकारियों के सेवा प्रदर्शन की विस्तृत समीक्षा के बाद ‘‘जनहित’’ में यह कार्रवाई की गई है। दोनों की सेवा के 15 वर्ष पूरे हो चुके हैं। अधिकारी ने बताया, ‘‘आईपीएस अधिकारियों के प्रदर्शन की समीक्षा काम में कोताही करने वाले अधिकारियों को बाहर करने के लिए की गई थी।’’ गृह मंत्रालय जो कि IPS ऑफिसर्स के कैडर्स को कंट्रोल करती है उसने इस सिफारिश को मान लिया है। अखिल भारतीय सेवा के अधिकारियों की दो बार सेवा समीक्षा की जाती है। पहली सेवा के 15 वर्ष पूरा होने पर और फिर 25 वर्ष पूरा होने पर। अखिल भारतीय सेवा (मृत्यु सह सेवानिवृत्ति लाभ) नियम – 1958 के मुताबिक, ‘केंद्र सरकार संबंधित राज्य सरकार के साथ विचार-विमर्श कर और सेवा के सदस्य को कम से कम तीन महीने पहले लिखित नोटिस देकर ।

लखनऊ ।। प्राप्त सुचना के अनुसार अपर्णा यादव को भी अखिलेश ने दिया टिकट,।। शिवपाल यादव की नाराजगी के कारण उनकी जगह अब उनके बेटे लड़ेंगे चुनाव,अखिलेश ने दोनों के नाम फाइनल किए।

Page 1 of 81

Media News

  • Bollywood
  • Life Style
  • Trending
  • +18
Post by Source
- Jan 18, 2017
जेएनयू में देशद्रोही नारों के समर्थन में रही बंगाल की ये अभिनेत्री आजकल शूर्खियो में हैं मगर इस बार ये अपने हॉट फोटोशूट ...
Post by Source
- Jan 18, 2017
चावल के साथ आपने मसूर से चना और भी कई वेराइटी की दाल खाई होगी. प्रोटीन से भरी दाल आपके हेल्थ के लिए ...
Post by सत्य चरण राय (लक्की)
- Jan 19, 2017
सपा-कांग्रेस गटबंधन से छटक सकता है आरएलडी का हेंडपम्प । पहले चरण पश्चिमी यूपी में है अजीत सिंह की पकड़, बसपा-बीजेपी को ...
Post by Source
- Dec 23, 2016
कामेच्छा यदि किसी भी व्यक्ति में सामान्य लेवल से कम होती है तो जीवन में उसके लिए कई परेशानियां पैदा हो जाती हैं। ...

Living and Entertainment

Newsletter

Quas mattis tenetur illo suscipit, eleifend praesentium impedit!
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…