×

Warning

JUser: :_load: Unable to load user with ID: 871

Dharm

Dharm (99)

हिंदु धर्म हिंदू धर्म में माना जाता है कि व्रत के दौरान सेक्स नहीं करना चाहिए। सेक्स से जुड़े कोई ख्याल भी नहीं आने चाहिए। जबकि हिंदू धर्म में ऐसा कोई कड़ा नियम नहीं है। हिंदू धर्म में वैज्ञानिक तौर पर इस बात की पुष्टि की गई है। दरअसल व्रत के दौरान शरीर में बिल्कुल भी ताकत नहीं रहती। जबकि सेक्स करने के लिए काफी ताकत की जरूरत होती है। इस कारण से हिंदू धर्म में व्रत के दौरान सेक्स करने की मनाही है। 2 मुस्लिम धर्म मुस्लिम धर्म में सेक्स को पवित्रता से जोड़कर देखा जाता है। इसलिए रोजा रखने के दौरान सेक्स की केवल रात में अनुमति है। दिन के दौरान जब रोजा रखा जाता है तो शारीरिक संबंध बनाने की मनाही है। 3 बुद्धिज्म बौद्ध धर्म में व्रत के दौरान सेक्स करने पर पाबंदी है। लेकिन इसमें पवित्रता और थकावट के कारण मनाही नहीं है। इसमें मोह से छुटकारा पाने के लिए सेक्स करने पर पाबंदी लगाई गई है। वैसे भी बौद्ध धर्म का उद्देश्य ही है मोह को त्यागो। 4 ईसाई धर्म ईसाई धर्म में सेक्स करना कभी गलत नहीं माना जाता है। इस धर्म के अनुसार ये बहुत ही पवित्र काम है और दो लोगों को आपस में जोड़ने का काम करता है। 5 यहूदी धर्म यहूदी धर्म में व्रत के दौरान सेक्स करने की सख्त मनाही है। इस धर्म के अनुसार व्रत खुद से जुड़ने और मेडिटेट करने का समय होता है। व्रत का यही लक्ष्य होता है कि इंसान अपनी इंद्रियों पर कंट्रोल रखे।

साल का पहला पुष्य नक्षत्र मकर संक्रांति के एक दिन पहले यानी की 13 जनवरी को पड़ रहा है। यह दिन बहुत ही शुभ माना जाता है। जो कि शुक्रवार के दिन पड़ रहा है। इस दिन मां लक्ष्मी का दिन माना जाता है। पुष्य नक्षत्र और शुक्रवार एक दिन होने के कारण यह दिन बहुत ही शुभ है। इस दिन मां लक्ष्मी की विधि-विधान से पूजा करने पर वह आपके ऊपर अपनी कृपा जरुर करती है। 12 जनवरी की रात 2 बजकर 32 मिनट से यह शुभ योग प्रारम्भ होगा जो कि 13 जनवरी को रात 1 बजकर 47 मिनट में खत्म होगा। जिसके कारण 13 जनवरी को दिनभर पुष्य योग होगा। इस दिन धन-संपत्ति के लिए अच्छा दिन है। इस दिन मां लक्ष्मी को उनकी प्रिय वस्तुएं जैसे कि कमल का फूल, मिठाई, सिंदूर आदि अर्पित करना शुभ होगा। इस दिन कुछ उपाय करने से आपकी किस्मत बदल सकती है। जानिए इन उपाय के बारें में। इस दिन माता लक्ष्मी को प्रिय वस्तुएं चढ़ाने से वह खुश होती है। इसके लिए जल्दी सुबह स्नान कर कमल का फूल और मिठाई लेकर मां लक्ष्मी के मंदिर जाकर अर्पित करें। लक्ष्मी की पूजा करते समय चांदी का सिक्का रखें। बाद में इन्हें अपनी तिजोरी में रख दें। इससे आपकी तिजोरी हमेशा पैसों से भरी रहेगी। मां लक्ष्मी के साथ-साथ भगवान विष्णु की पूजा करने से भी मां की कृपा आप पर बनी रहती है। इसके लिए दक्षिणावर्ती शंख में केसर मिला दूध भरकर भगवान विष्णु का अभिषेक करें। इससे आपको धन लाभ मिलेगा।

उत्त्तर प्रदेश से सामने आया धर्म परिवर्तन चौकाने वाला मामला जहां एक मुस्लिम महिला ने हिन्दू धर्म अपना लिया इस मुस्लिम महिला की हिन्दू धर्म अपनाने की वजह जान कर लोग बेहद हैरान दिख रहें है। शुक्रवार देर शाम जय शिवसेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित आर्यन के नेतृत्व में मुस्लिम महिला शबनम ने हिंदू धर्म अपना लिया। आर्य समाज के विद्वान शास्त्री ने वैदिक रीति से धर्म परिवर्तन कराया। अब ये शबनम नाम की महिला सीमा बन गई है। हिन्दू हुई इस महिला के मुताबिक, वह जय शिवसेना के साथ मिलकर तीन तलाक व मुस्लिम धर्म में व्याप्त अन्य कुरीतियों से पीड़ित महिलाओं की मदद के लिए लड़ाई लड़ेगी। इसी वजह से उसने धर्म परिवर्तन कराया है। महिला के धर्म परिवर्तन के बाद जय शिवसेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित आर्यन ने कहा कि हमारी पार्टी धर्म बदलने के लिए किसी पर दबाव नहीं डालती, लेकिन हमारे पास जो भी मुस्लिम महिला अपनी परेशानी लेकर आएगी, हम उसकी पूरी मदद करेंगे। प्रशासन ने हमारे इस काम में काफी अड़ंगे लगाए, लेकिन महिला ने धर्म परिवर्तन कर ही लिया। अमित आर्यन ने कहा कि धर्म परिवर्तन का काम वैदिक रीति के अनुसार कोई भी व्यक्ति स्वेच्छा से कर सकता है। प्रत्येक व्यक्ति को शुद्धिकरण का अधिकार है। उत्तर प्रदेश के गाज़ियाबाद में कैला भट्टा में रहने वाली इस महिला को 2014 में उसके पति ने तलाक दे दिया था। ऐसे में इद्दत की अवधि के बाद उसने पति का घर छोड़ दिया था। उस वक्त महिला के 2 बच्चे थे। पीड़िता का आरोप है कि उसके पति ने गुमराह करके उसे वापस बुला लिया। वहीं, हलाला की आड़ में महिला से वेश्यावृत्ति कराई गई।

हेल्थ डेस्क: आज के समय में हर कोई अपनी सेहत को ज्यादा ध्यान देते है। कई लोग तो ऐसे होते है जो खाने से पहले सौ बार सोचते है कि हमारी सेहत के लिए क्या सही है और क्या नहीं। पुराने जमाने में कहा जाता था साथ ही इस बात में जोर दिया जाता था कि उनका बच्चा भरपूर मात्रा में रोटी, दूध, घी का सेवन करे। जिससे कि बुढ़ापे तक उन्हें किसी भी तरह की बीमारी न हो। आज के समय में हम जंकफूड, चावल, रोटी में ज्यादा रहते है। साथ में इस बात की उलझन रहती है कि हमारी बॉडी के लिए चावल खाना ज्यादा सही है या फिर रोटी। चावल और दोनों को ही इंडियन खाना का एक पार्ट माना जाता है। इन दोनों के बिना खाना अधूरा माना जाता है, लेकिन जो लोग अपनी सेहत का अधिक ध्यान रखते है वह इस बात में उलझे रहते है कि उनकी सेहत के लिए ज्यादा क्या सही है। वह कई लोगों के पूछते भी रहते है कि आखिर आपकी सेहत के लिए सबसे ज्यादा पोषण किससे मिलेगा। हम अपनी खबर में बताएंगे कि आखिर आपकी सेहत के लिए सबसे ज्यादा कौन सी चीज ठीक है रोटी या फिर चावल। ब्लड शुगर चावल और रोटी दोनों में ग्लाइसेमिक इंडेक्स एक सा होता है। यानी कि दोनों से बल्ड प्रेशर एक ही तरह बढ़ता है। इसलिए आपको अगर ब्लड प्रेशर की समस्या है तो आप दोनों चीज का सकते है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि चावल ज्यादा मात्रा में न खाएं। हो वजन बढने की चिंता चावल में भरपूर मात्रा में स्टार्च पाया जाता है। जिसके कारण ये जल्दी से पच जाता है। साथ ही चावल में फैट अधिक होता है। वही रोटी देर तक नहीं पचती है। जिससे आपको देर तक भूख नहीं लगती है। अगर आप अपनी डाइटिंग, थायराइड, मोटापा पर ध्यान दे रहे है, तो चावल से दूरी बना कर रखें। पाचन तंत्र को कौन रखता ज्यादा फिट चावल में कम कार्बोहाइड्रेट और कै‍लोरी की मात्रा ठीक होती है। वही रोटी में कैलोरी और संयुक्त कार्बोहाड्रेट शामिल होता है। इसलिए अगर आप चावल खाते हैं तो उसमें रोटी की तुलना में कार्बोहाइड्रेट को ब्रेक करने के लिये कम ऊर्जा का प्रयोग होता है। अगर आपका पेट ठीक नहीं रहता है तो आपके लिए चावल सबसे अच्छा ऑप्शन है। पोषण तत्वों से भरपूर चावल में कम मात्रा में फॉस्‍फोरस, पोटेशियम और मैग्‍नीशियम पाया जाता है। वही रोटी में चावल की तुलना में अधिक मात्रा में कैल्‍श‍ियम, फॉस्‍फोरस, आयरन और पोटेशियम जैसे मिनरल्‍स पाए जाते हैं। चावल में कैल्‍श‍ियम, सोडियम नहीं होता। वही रोटी में चावल के मुकाबले ज्‍यादा फाइबर, प्रोटीन, माइक्रोन्‍यूट्र‍िएंट्स और सोडियम मिलता है। चावल में सोडियम नहीं होता। रोटी और चावल, दोनों में फोलेट मिलता है। यह पानी में घुलनशील विटामिन बी है। हालांकि, फोलेट के लिए चावल रोटी के मुकाबले ज्‍यादा बेहतर स्रोत है।

हमारे आस-पास और घर में मौजूद चीजों का किसी न किसी रुप में हम पर जरुर असर होता है। आपने देखा होगा कि कोई चीज आपके घर में आई होगी और उसके बाद से घर में एक के बाद एक खुशखबरी और उन्नति होती गई होगी। वैसे ही नया घर या काम शुरू करने को बाद कई बार घर में सुख-शांति नहीं रहती। धंधा करने वालों को काम में मुश्किलों का सामना करना पड़ता है कई बार तो धंधा बंद तक करना पड़ जाता हैं। वास्तु विज्ञान में ऐसी ही कुछ चीज का उल्लेख किया गया है जिससे नए मकान-फैक्ट्री व उद्योग के शुरुआत में करने से सुख-शांति औऱ काम में उन्नति मिलती है। वास्तु विशेषज्ञों की मानें तो अगर आप नए मकान-फैक्ट्री व उद्योग को शुरू करने वाले हैं तो उपाय जरूर करें। भूमि-पूजन करके नींव का मूहूर्त अवश्य करना चाहिए। इस मूहूर्त में चांदी का सर्प बनाकर जमीन में जरूर डालना चाहिए। भारतीय मान्यता के अनुसार जिस प्रकार शेषनाग के सिर पर पूरी पृथ्वी का भार है, ठीक उसी प्रकार से इस भवन का भार शेषनाग की तरह सर्प के उपर रखा रहेगा। इससे मकान की नींव कभी नहीं टूटेगी और बनी रहेगी। मकान किसी भी आपदा से बचा रहेगा। यह प्रयोग सैकड़ो बार परीक्षित है। इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य व सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

Page 2 of 9

Media News

  • Bollywood
  • Life Style
  • Trending
  • +18
Post by अंकिशा राय
- Feb 23, 2017
जी हां, यहां बात हो रही है दंगल गर्ल फातिमा सना शेख की। खबर है कि फातिमा को यशराज बैनर की फिल्म ठग्स ऑफ हिंदुस्तान के ...
Post by Source
- Feb 23, 2017
हर किचन में कुछ ऐसी चीजें मौजूद होती है। जो कि आपकी सेहत के साथ-साथ सौंदर्य के लिए भी काफी फायदेमंद ...
Post by सत्य चरण राय (लक्की)
- Feb 23, 2017
अखिलेशजी! आप गधे से क्यों घबराते हो? मैं भी उससे प्रेरणा लेता हूं: मोदी* *Feb 23,2017* लखनऊ. नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को ...
Post by Source
- Feb 09, 2017
लड़कियों का फेवरेट होता है मेकअप , मेकअप में भी लिपस्टिक होती है सब लड़कियों की फेवरेट । लेकिन क्‍या आप जानते हैं ...

Living and Entertainment

Newsletter

Quas mattis tenetur illo suscipit, eleifend praesentium impedit!
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…