Health

Health (129)

तंबाकू की आदत छुड़वाने में मनोवैज्ञानिक सलाह के अलावा निम्नलिखित घरेलू नुस्खे भी अपनाए जा सकते हैं – • बारीक सौंफ और मिश्री के दानों को मिलाकर धीरे-धीरे चूसें, नरम हो जाने पर चबाकर खा जाएं। • अजवाइन को साफ कर के नींबू के रस व काले नमक में दो दिन तक भींगने रख दें, इसे छांव में सुखाकर मुंह में रखकर चूसते रहें। • छोटी हरड़ को नींबू के रस अौर साेंधे नमक (पहाड़ी नमक) के घोल में दो दिन तक फूलने दें। इसे निकाल कर छांव में सुखाकर शीशी में भर लें और इसे चूसते रहें, नरम हो जाने पर चबाकर खा लें। • तंबाकू को सूंघने की आदत छोड़ने के लिए गर्मी के मौसम में केवड़ा, गुलाब, खस आदि के इत्र का फोहा कान में लगाएं। • सर्दी के मौसम में तंबाकू खाने की इच्छा होने पर हिना की खुशबू का फोहा सूंघें। याद रखे:- खाने की आदत को धीरे-धीरे छोड़ें! एकदम बंद न करें, क्योंकि रक्त में निकोटिन के स्तर को धीरे-धीरे ही कम किया जाना चाहिए।

हर किचन में कुछ ऐसी चीजें मौजूद होती है। जो कि आपकी सेहत के साथ-साथ सौंदर्य के लिए भी काफी फायदेमंद होती है। इन्हीं मसालों में से एक है मेथी। जिसके बिना तो हर खाना अधूरा लगता है। वैसे तो मेथी देखने में तो हैं छोटी होती है, लेकिन इसमें स्वास्थ्य संबंधी अनेक गुण होते है। इसे हम खाने में इस्तेमाल करते है। इसकी महक और स्वाद से खाने का स्वाद को बदलने की क्षमता होती है। वैसे तो यह खाने में बहुत ही कडवा होता है। फिर भी इसे हम खाने में इस्तेमाल करते है। इसमें कई औषधीय गुण भी मौजूद होते है। मेथी की भी कई तरह की वेरायटी पाई जाती है। जो कि आपकी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होती है। जिसका सेवन करना महिलाओं के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। आमतौर में इसका इस्तेमाल पकवान की खूशबू बढ़ाने में किया जाता है, लेकिन ये आपकी सेहत के लिए भी वरदान है। जानिए महिलाओं द्वारा सेवन करने क्या फायदे मिलेगे। जानिए... ब्लड शुगर से दिलाएं निजात अगर आपको बल्ड शुगर की समस्या है, तो आप आज से ही मेथी का सेवन करना शुरु कर दें। इसके लिए रोजाना एक छोटे चम्मच मेथी दाना को रोज सुबह एक ग्लास पानी के साथ लेने से डायबिटीज में राहत मिलती है। शोधकर्ताओं का मानना है कि कसूरी मेथी टाइप 2 डायबिटीज में ब्लड में शुगर के स्तर को कम करती है। कैंसर से करें बचाव मेथी के दानों का फाइबर शरीर से विषाक्त पदार्थ टॉक्सिन्स को निकालने में सहायता करता है। जिससे यह कैंसर से कोलोन के म्युकस मेमब्रेन की रक्षा करता है। अल्सर, पेट की सूजन से आराम अगर आपको अल्सर या पेट की सूजन से परेशान है, तो इसका सेवन करें। यह पेप्टिक अलसर और पेट और आंत में सूजन से आराम मिलने के लिए किया जाता है, क्योंकि यह जहरीले पदार्थ को सोखकर निकालने में मदद करता है। एनीमिया ज्यादातर महिलाओं को खून की कमी यानी कि एनीमिया की समस्या होती है। इसका मुख्य कारण ठीक ढंग से खानपान न होने के कारण होता है। अगर आपको भी यही समस्या है, तो आप कस्तूरी मेथी का इस्तेमाल कर एनीमिया की समस्या से निजात पा सकती है। इसके लिए आप मेथी का साग खाना शुरु कर दें। स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए ब्रेस्टफीड कराने वाली महिलाओं के लिए भी कसूरी मेथी काफी फायदेमंद होती है। इसमें पाएं जाने वाले तत्व स्‍तनपान करवाने वाली महिलाओं के ब्रेस्‍ट मिल्‍क को बढ़ाने में मदद करता है। मोनोपॉज के समय हो रहे हार्मोनल चेंज को करें कंट्रोल महिलाओं की एक सबसे बड़ी समस्या है मोनोपॉज। जिसके कारण शारीरिक कमजोरी होने के साथ-साथ हार्मोनल बदलाव भी आते है। ऐसे में मेथी का सेवन करना चाहिए इसमें Phytoestrogen पाया जाता है। जो कि मेनोपॉज के दौरान हो रहे हार्मोनल चेंज को कंट्रोल करता है।

गर्मियां आने में अब ज्यादा समय नहीं रह गया है। वहीं गर्मियों में हम छोटे-छोटे कपड़े पहनकर घर से निकलते हैं और कोई कोहनी या घुटने के कालेपन को लेकर हमें टोक देता है जिससे हमको शर्मिंदा होना पड़ता है। आमतौर पर महिलाओं और पुरूष दोनों में ही इस प्रकार की समस्या को देखा जाता है क्योंकि यह समस्या एक आम समस्या है। आज हम आपको कोहनी और घुटनों के कालेपन से छुटकारा पाने के लिए कुछ घरेलू नुस्खे बता रहे हैं। इन्हें आजमाकर आप कुछ ही दिनों में कालेपन की समस्या से हमेशा से लिए छुटकारा पा सकते हैं। शरीर में जोड़ों का कालापन कोई चौंकाने वाली समस्या नहीं है क्योंकि शरीर के अन्य अंगों के मुकाबले जोड़ों की स्किन थोड़ी मोटी होती है। जिसके चलते ये आसानी से काली हो जाती है। कोहनी और घुटनो में कालेपन का कारण जब डेड स्किन सेल्स कोहनी या घुटने पर जम जाती है तो ये काले हो जाते हैं। इसके अलावा जब हम कोहनी और घुटनों को साफ करने की मंशा से ज्यादा रगड़ देते हैं उसके बाद ये साफ होने के बजाय और भी काले पड़ जाते हैं। कोहनी और घुटनों पर अधिक बल रखने से भी ये काले होते हैं। कई लोग घुटनों के सहारे बैठकर घर में पोंछा या डस्टिंग करते हैं। जो कालेपन का सबसे बड़ा कारण है। ओवरवेट यानि कि हद से ज्यादा मोटापा या हद से ज्यादा पतला होने के कारण भी कोहनी और घुटनों के कालेपन की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। कोहनी और घुटनो के कालेपन को दूर करने के उपाय सबसे पहले खीरे की 2-4 स्लाइश बना लें। अब 1 स्लाइश लें और इसे 10 से 15 मिनट तक प्रभावित अंग पर रगड़े। इसके बाद 5 मिनट के लिए छोड़ दें और अब ठण्डे पानी से धोएं। अब दूसरी प्रक्रिया स्क्रब की है। स्क्रब करने के लिए एक कंटेनर में बेकिंग सोडा लें। अगर ये नहीं है तो आप चीनी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। अब इसमें कुछ मात्रा दूध की शामिल करें। इन्हें मिक्स करें अब इससे 5 मिनट तक कालीपन वाली जगह पर स्क्रब करें। आप स्क्रब के दौरान ब्रश का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे ज्यादा अच्छी तरह साफ होगा। अब वाइटनिंग पैक बनाने के लिए 2 चम्मच प्याज का पेस्ट, 2 चम्म्च नींबू का रस आधा चम्मच शहद और 1 चम्म्च बेसन लेकर इन्हें आपस में अच्छी तरह मिक्स करें। प्याज में एंटी आॅक्सीडेंट होता है जो स्किन को डीप तक नॉरिश करता है और कालेपन को हटाता है। नींबू में 6 प्रतिशत सिट्रिक ऐसिड है जो स्किन टोन को हल्का करता हैं। शहद एक नेचुरल ब्लीचिंग है और ये स्किन पोर्स को साफ और चमकदार बनाता है। बेसन एक स्किन वाइटनिंग एजेंट है। ये चेहरे को साफ करने के साथ ही दाग धब्बे भी दूर करता हैं। इस पैक को 30 मिनट तक लगाकर छोड़ दें। अब साफ पानी से धो लें। हमारा दावा है कि इस प्रक्रिया को 3 से 4 बार करने के बाद ही आपको कोहनी और घुटनों के कालेपन से हमेशा के लिए छुटकारा मिल जाएगा।

कलौंजी (Nigella sativa or Black Seeds) हमारे देश में लगभग हर रसोईघर में मिल जायेगी लेकिन इसकी याद सिर्फ तभी ज्यादा आती है जब घर की महिलायें साल भर का अचार बना रहीं हों। लेकिन, कलौंजी का यही सिर्फ एक उपयोग नहीं है। पिछले कुछ वर्षों में कलौंजी और कलौंजी का तेल एक बहुत ही महत्वपूर्ण औषधि बनकर उभरे हैं, जिनका उपयोग कई शारीरिक समस्याओं पर बहुत ही प्रभावकारी सिद्ध हुआ है। कलौंजी में प्राकृतिक रूप से विटामिन A, B1, B2, C, नियासिन, कैल्शियम, आयरन, सोडियम, पोटेशियम, मैंगनीज, जिंक, और सेलेनियम और बहुत अधिक लाभकारी ओमेगा 3 और 6 फैटी एसिड प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं। कलौंजी के बीजों में लगभग 40% कार्बोहायड्रेट, लगभग 20% प्रोटीन, और लगभग 40% तेल होता है। इसमें पाये जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट गुण शरीर को हानि पहुंचाने वाले फ्री रेडिकल्स से लड़ते हैं और कई रोगों से रक्षा करते हैं। कलौंजी के बीजों को इस्तेमाल करने के लिए, लगभग 1/2 चम्मच बीज रात को पानी में गला दें और सुबह खाली पेट इन्हे इस्तेमाल करें। अच्छे परिणाम के लिए कम से कम 6 से 8 हफ्ते इस्तेमाल करें। बीजों की जगह अगर आप तेल इस्तेमाल करने का विचार बना रहे हैं तो शुरुआत 1/2 चम्मच तेल से करें, और धीरे धीरे जब आपका शरीर इसके प्रति ग्रहणशील ही जाए तो मात्रा 1 चम्मच तक बढ़ा सकते हैं। सौंदर्य बढाए कलौंजी के तेल की नियमित मालिश बालों का झड़ना कम करती है। इसके साथ ही त्वचा पर इसका सेवन मुहांसे और उनसे हुए दागों को हटाने में बहुत प्रभावकारी है। चेहरे की झुर्रियां हटाने के लिए थोड़े से कलौंजी के तेल में लगभग 1 चम्मच शहद मिलायें। अब इस मिश्रण में अपनी पसंद अनुसार ऑलिव ऑयल या जोजोबा ऑयल मिलायें। सभी सामग्री को आपस में अच्छी तरह मिलायें और इससे अपने चेहरे की नीचे से ऊपर और सर्कुलर मोशन में अच्छी तरह मालिश करें। अच्छे परिणामों के लिए नियमित रूप से हफ्ते में कम से कम दो बार इस्तेमाल करें। आइये जानते हैं कलौंजी का उपयोग कर बनाये गए एक ऐसे हेयर पैक के बारे में जो गंभीर बालों के झड़ने की समस्या, डेंड्रफ, सफ़ेद बाल जैसी समस्याओं के लिए 100% इफेक्टिव और कारगर है

देश की हवा दिन-प्रतिदिन जहरीली होती जा रही है और एक नए अध्ययन में कहा गया है कि वायु प्रदूषण के कारण प्रतिदिन औसतन दो लोग मारे जाते हैं. चिकित्सीय पत्रिका ‘द लांसेट’ के अनुसार, हर साल वायु प्रदूषण के कारण 10 लाख से ज्यादा भारतीय मारे जाते हैं और दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में से कुछ शहर भारत में हैं. इस सप्ताह जारी हुआ यह अध्ययन वर्ष 2010 के आंकड़ों पर आधारित है. इसमें कहा गया है कि वैश्विक तौर पर 27..34 लाख समय पूर्व जन्म के मामलों को पीएम 2.5 के प्रभाव से जोड़ा जा सकता है और इन मामलों में सबसे बुरी तरह दक्षिण एशिया प्रभावित होता है. यहां 16 लाख जन्म समय पूर्व होते हैं. अध्ययन में कहा गया है कि वायु प्रदूषण और जलवायु परिवर्तन के कारण विस्तृत तौर पर एक-दूसरे से जुड़े हैं और इनसे एकसाथ निपटे जाने की जरूरत है. द लांसेट में कहा गया कि जलवायु परिवर्तन ‘‘मानवीय स्वास्थ्य पर तो भारी खतरा पैदा करता ही है’’ साथ ही साथ यदि सही कदम उठाए जाएं तो वह ‘‘21वीं सदी का सबसे बड़ा वैश्विक स्वास्थ्य अवसर भी है.’’ पत्रिका में छपे अध्ययन में कहा गया कि उत्तर भारत में छाया स्मॉग भारी नुकसान कर रहा है. हर मिनट भारत में दो जिंदगियां वायु प्रदूषण के कारण चली जाती हैं. इसके अलावा, विश्व बैंक के आकलन के मुताबिक यदि भारत में श्रम से होने वाली आय के क्रम में देखा जाए तो इससे 38 अरब डॉलर का नुकसान होता है. अध्ययन कहता है कि वायु प्रदूषण सभी प्रदूषणों का सबसे घातक रूप बनकर उभरा है. दुनियाभर में समय से पूर्व होने वाली मौतों के क्रम में यह चौथा सबसे बड़ा खतरा बनकर सामने आया है. हाल ही में 48 प्रमुख वैज्ञानिकों ने अध्ययन जारी किया और पाया कि पीएम 2.5 के स्तर या सूक्ष्म कणमय पदार्थ :फाइन पार्टिक्युलेट मैटर: के संदर्भ में पटना और नई दिल्ली दुनिया के सबसे प्रदूषित शहर हैं. ये कण दिल को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाते हैं.

बेदाग और सुंदर त्वचा पाने के लिए लोग बाजार में मौजूद मंहगे कॉस्मेटिक का सहारा लेते हैं। लेकिन बहुत ही कम लोग ये जानते होंगे कि सेंधा नमक का इस्तेमाल खाना बनाने के अलावा खूबसूरत त्वचा पाने के लिए भी किया जाता है। आइए जानते हैं कि किस तरह आप इससे बेदाग त्वचा पा सकते हैं। - सेंधा नमक को नींबू के रस में मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें। अब इस मिश्रण से स्क्रब करें। हफ्ते में दो बार ऐसा करने से मुहांसों, ब्लैक हैड्स आदि से छुटकारा मिलता है। - सेंधा नमक को शहद में मिलाकर लगाने से त्वचा में निखार आता है। इसके इस्तेमाल के लिए सबसे पहले सेंधा नमक में शहद की कुछ बूंदे मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें। अब इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं और सूखने पर धो लें। हफ्ते में दो से तीन बार इसे इस्तेमाल कर सकते हैं। - सर्दियों में त्वचा रूखी पड़ जाती है। इसके लिए आप सेंधा नमक में बादाम या जैतून के तेल की कुछ बूंदे मिलाकर चेहरे पर लगा सकते हैं। इससे चेहरा साफ होता है और नमी भी बरकरार रहती है। - अपने फेसवॉश या क्लीनजर में सेंधा नमक मिलाकर चेहरे पर लगाएं। इससे रोम छिद्र खुल जाते हैं और त्वचा में निखार आता है। - नाखूनों का पीलापन हटाने के लिए सेंधा नमक का इस्तेमाल किया जाता है। इसके लिए पानी में सेंधा नमक डालें और उसमें हाथों को डुबोएं। ऐसा करने से नाखूनों के पीलेपन से निजात मिलती है।

इस मौसम में ब्लड प्रेशर की बड़ी समस्या होती है। थोड़ी सी भी लापरवाही हार्ट अटैक और ब्रेन हेमरेज करा देती है। ऐसे में आप घर बैठे ही बिना दवा खाए बीपी को कंट्रोल कर सकते हैं , आज़माये ये घरेलू नुस्खे 1. सुबह-सुबह सहजन के पत्ते को उबाल कर पीने से बीपी कंट्रोल में रहता है 2. सुबह-सुबह खाली पेट लहसुन के प्रयोग से भी बीपी पूरी तरह से कंट्रोल रहता है। लहसुन में एलीलिन पाया जाता है 3. जिससे खून पतला रहता है। इसकी वजह से ब्लड प्रेशर नियमित कंट्रोल में रहता है। 4. सुबह में आंवला का उपयोग करने से कॉलेस्ट्रोल की समस्या नहीं होती है। कॉलेस्ट्रोल के कम होने का मतलब ही है कि ब्लड प्रेशर सही है 5. घर में रखा धनिया भी ब्लड प्रेशर के मरीज के लिए रामबाण साबित होता है। एक ग्राम सूखा धनिया के साथ दो ग्राम 6. सर्पगंधा और दो ग्राम मिसरी मिलाकर इस्तेमाल करने से भी बीपी पूरी तरह से कंट्रोल में रहता है। 7. बीपी अचानक बढ जाए तो एक कप गुनगुने पानी में काली मिर्च का एक चम्मच पाउडर मिलाकर इस्तेमाल करें, ब्लड प्रेशर कंट्रोल हो जाता है। इसे दो-दो घंटे के अंतराल पर लेते रहना चाहिए।

आज के समय में लोग इतने व्यस्त रहने लगे हैं कि अपना ही ख्याल नहीं रख पा रहे। ऐसे में सबसे ज्यादा असर उनके बालों पर देखने को मिलता है। गलत खान-पान, हार्मोन का संतुलन बिगड़ने के कारण बाल झड़ने लगते हैं। अगर आप भी बालों की इस समस्या से जूझ रहे हैं तो ये नुस्खे आपके लिए कारगर हो सकते हैं।

आंवला आंवला में विटामिन सी मौजूद होता है जो बालों की ग्रोथ के लिए जिम्मेदार होता है। इसके लिए एक चम्मच आंवले के गूदे में नींबू का रस मिलाएं और बालों की जड़ों पर लगाएं। इसे लगाकर सो जाएं और सुबह होने पर शैम्पू से बालों को धो लें।

मेथी के दानें रात को सोने से पहले मेथी के दानों को पानी में भिगो दें। सुबह उठकर इसे पीस लें और पेस्ट तैयार कर लें। अब इस पेस्ट को करीब 40 मिनट के लिए बालों पर लगाएं और फिर धो लें। करीब एक महीने तक ऐसा करने से आपको फर्क पता चलेगा।

प्याज का रस प्याज बालों की समस्या का सटीक उपाय है। इसके लिए सीधे बालों पर प्याज का रस लगाएं और आधे घंटे बाद धो लें। आप चाहें तो इसमें एलोवेरा जेल या जैतून का तेल भी मिलाकर लगा सकते हैं।

एलोवेरा एलोवेरा से बाल लंबे और घने बनते हैं। इसका इस्तेमाल करने के लिए बालों पर एलोवेरा जेल या इसका जूस लगाएं और कुछ घंटों बाद गुनगुने पानी से बाल धो लें। हफ्ते में तीन-चार बार इसे लगाने से आपको फर्क महसूस होगा।

गुड़हल इसके लिए गुड़हल के फूल और पुदीने की पत्तियों को साथ में पीसकर पानी में मिलाएं और पेस्ट तैयार करें। आधे घंटे के लिए इसे बालों पर लगाएं और फिर अच्छे से धो लें। हफ्ते में दो बार ऐसा करने बाल झड़ना रुक जाते हैं।

Page 1 of 11

Media News

  • Bollywood
  • Life Style
  • Trending
  • +18
Post by अंकिशा राय
- Feb 23, 2017
जी हां, यहां बात हो रही है दंगल गर्ल फातिमा सना शेख की। खबर है कि फातिमा को यशराज बैनर की फिल्म ठग्स ऑफ हिंदुस्तान के ...
Post by Source
- Feb 23, 2017
हर किचन में कुछ ऐसी चीजें मौजूद होती है। जो कि आपकी सेहत के साथ-साथ सौंदर्य के लिए भी काफी फायदेमंद ...
Post by सत्य चरण राय (लक्की)
- Feb 23, 2017
अखिलेशजी! आप गधे से क्यों घबराते हो? मैं भी उससे प्रेरणा लेता हूं: मोदी* *Feb 23,2017* लखनऊ. नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को ...
Post by Source
- Feb 09, 2017
लड़कियों का फेवरेट होता है मेकअप , मेकअप में भी लिपस्टिक होती है सब लड़कियों की फेवरेट । लेकिन क्‍या आप जानते हैं ...

Living and Entertainment

Newsletter

Quas mattis tenetur illo suscipit, eleifend praesentium impedit!
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…