गोरखनाथ मंदिर स्थित हिंदू सेवाश्रम में चल रहा मुख्यमंत्री का कैंप कार्यालय शनिवार को बंद कर दिया गया। इसके बाद भी मंदिर स्थित कार्यालय पर फरियादियों का आना जाना लगा रहा। उसमें से कुछ ऐसे लोग थे, जिनकी पंचायत द्वारिका तिवारी स्वयं करके निपटाने का प्रयास कर रहे थे। वहीं कुछ मुख्यमंत्री को संबोधित अपना ज्ञापन कार्यालय में जमा किए गए।जब योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री नहीं थे, तब भी उनका जनता दरबार मंदिर स्थित उनके कार्यालय पर लगता था। तब अधिकतर लोग उनके संसदीय क्षेत्र से यहां आते थे।  उनके मुख्यमंत्री बनने के बाद अचानक भीड़ बढ़ने लगी। पूरे प्रदेश से फरियादी मंदिर पहुंचने लगे। यहां तक की दूसरे प्रदेश के लोग भी यहां आने लगे थे। भीड़ को देखते हुए जिलाधिकारी ने यहां पर सभी विभागों के लोगों को बैठाना शुरू कर दिया था। जिस विभाग की समस्या लेकर लोग आते थे, उस विभाग के कर्मचारी उसे उच्चाधिकारियों तक भेजते थे। पूरी प्रक्रिया को वेबसाइट पर अपलोड किया जाता था। किसी आवेदन की स्थिति की जानकारी आवेदक को मोबाईल से भी दी जाती थी। शनिवार को अचानक डीएम ने इसे बंद करने का आदेश दे दिया। रविवार का दिन होने के बाद भी सौ के करीब मंदिर में अपनी समस्या लेकर पहुंचे थे। इनमें जिन समस्याओं का निस्तारण स्थानीय स्तर पर होना था, उसे पंचायत के द्वारा निपटाने का प्रयास किया गया। उच्चाधिकारियों को पहुंचाने वाले आवेदनों को कार्यालय में रख लिया गया। जिला प्रशासन के कर्मचारी उसे ले जाकर अगली कार्रवाई पहले की तरह करेंगे।

Published in Gorakhpur

कुशीनगर विदेश रह रही शिक्षिका ले रही सेलरी अधिकारी बेखबर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों  को निर्देश दिये है कि , बेसिक शिक्षा में 100 दिन में बदलाव दिखाई दे, जुलाई माह में 1 से 10 तारीख तक किट बांटी जाए, छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ पर कार्रवाई, उच्च प्राथमिक विद्यालयों में गणित,विज्ञान लैब बने बेसिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड के गठन पर विचार लेकिन इसके विपरित कुशीनगर जनपद में परिषदिय  स्कुलो का हाल ये है कि कही तीन अध्यापक चार बच्चे तो कही खंडहर में  तब्दील विधालय भवन इन विधालयो में शिक्षा का स्तर इस कदर गिर चुका है कि स्कुल केवल एक नाम रह गया कुशीनगर जनपद के  हाटा ब्लाक का यह प्राथमिक विघालय  कछुहिया सुमाली  जिसमें नमांकंन तो चालिस बच्चो का है ले़किन आते पन्द्रह बीस यहा दो शिक्षक है अर्चना  श्रीवास्तव व दुसरी साधना पाण्डे ,अर्चना श्रीवास्तव स्कुल पर पढाती मिली तो दुसरे  अध्यापिका के बारे में पुछा गया तो उनके बारे में  चौकाने वाली बात सामने अाया वह सालो से विदेश रह रही है आैर विदेश रहने के दौरान उपस्थिति पंजिका में हाजिरी बना हुआ है  आैर वेतन भी मिल रहा जबकि हर माह वेतन देने के लिए प्रपत्र 9 भरा जाता आैर उसमें पुरे माह की उपस्थिति देखी जाती है जो ब्लाक पर  BRC पर जमां होता जिस पर बीईआे की संतुती के बाद BSA  कार्यालय पर वेतन के लिए जाता वहा सें अध्यापको के खाते में उस माह का वेतन भेजा जांता इस सम्बंन्ध में जब बीईआे से पुछा गया तो मामले की जानकारी न होने का हवाला दिया अब सबसे बड़ा सवाल यें है कि अगर यें अध्यापिका  स्कुल में नही आती तो इन जिम्मेदार अधिकारी को पता तक नही जिनके कलम  से ही वेतन बनता है तो इसमें बीईआे की मिली भगत सें बड़ा खेल इन प्राथमिक स्कुल में चल रहा जहा सरकार के पैसें का दुरपयोग खुलेआम किया किया जा  रहा है .. यह नियम है कि नौकरी के दौरान परिषदिय विधालय का अध्यापक ग्रीष्म कालिन छुट्टी में भी विदेश नही जा सकता तो एैसे में ये अध्यापिका कैसे एक साल से विदेश रह कर रही है कही न कही विभागिय अधिकारियो के मिली भगत से इस अध्यापिका का वेतन पुरे साल तक  निर्गत किया जा रहा है इन सरकारी स्कुल में सर्वशिक्षा अभियान की पोल तब खुली जब स्कुल पर मिडिया पहुची अब देखना ये है कि  नैनिहालो के भविष्य से खिलवाड़ करने वाले इन दिम्मेंदारो पर कर्यवाही होती है तो क्या मुख्यमंत्री का र्निदेश का कितना असर लचर शिक्षा ब्वस्था पर होता जहा सालो से विदेश रह रही शिक्षिका बच्चो के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही तो अधिकारी भी आख बंन्द कर वेतन दे रहें हैं ।। सुरेंद्र द्विवेदी की विशेष पड़ताल

Published in Gorakhpur

समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश 19, विक्रमादित्य मार्ग, लखनऊ                           दिनांकः07.04.2017         समाजवादी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा है कि प्रदेश में विकास की दावेदारी करने वाले भाजपा नेताओं का सारा ध्यान समाजवादी सरकार की छवि धूमिल करने में लग गया है। जिन्होंने रागद्वेष से परे रहकर कर्तव्य निर्वहन की शपथ ली उनका विपरीत आचरण जगजाहिर हो रहा है। खुद अपनी कोई योजना लाने के बजाय भाजपा सरकार श्री अखिलेश यादव की योजनाओं के साथ छेड़छाड़  करने को अपनी उपलब्धि समझते है।          भाजपा को समाजवादी शब्द से प्रारम्भ से ही एलर्जी रही है। अपने नफरत के एजेंडा के तहत भाजपा सरकार ने समाजवादी सरकार की 18 योजनाओं से समाजवादी षब्द हटाने का निर्णय लिया है। भाजपा सरकार का यह आचरण पूर्णतया अमर्यादित और असंगत है क्योंकि स्वयं भारत के संविधान में भी ‘समाजवाद‘ शब्द अंकित है। समाजवादी सरकार की योजनाओं पर अपना ठप्पा लगाना भाजपा की छल प्रपंच की राजनीति का ही विस्तार है। नाम बदलने की कवायद स्वस्थ लोकतंात्रिक परंपरा के विपरीत व्यवहार है।          कितनी हास्यास्पद बात है कि श्री अखिलेश यादव ने अपने मुख्यमंत्रित्वकाल में शहरों और गांवों के लिए 24 घंटा और 18 घंटा बिजली आपूर्ति करने की जो व्यवस्था की थी उसे अब भारतीय जनता पार्टी की राज्य सरकार अपने खाते में जोड़कर जनता को भ्रमित कर रही है। वस्तुतः भाजपा का चरित्र ही भ्रम पैदा करने और समाजवादी विचारधारा के बारे में दुष्प्रचार करने का रहा है। समाजवादी सरकार ने किसानों की कर्जमाफी, मुफ्त सिंचाई, के साथ गांव-गरीब की मदद की जो योजनाएं चलाई थी उनकी ही नकल करके भाजपा की सरकार झूठा यश बटोरने को अपनी सफलता मान रही है। भाजपा सरकार को जनहित की अपनी योजनाएं बनानी चाहिए।          भाजपा सरकार अपनी समझ का इस्तेमाल किए बगैर समाजवादी सरकार के कामों की नकल करके अपने राजनीतिक और वैचारिक खोखलेपन का प्रदर्शन कर रही है। जनहित को भाजपा तुष्टीकरण का नाम देती है और नफरत तथा भेदभाव की राजनीति करती है। सबका साथ सबका विकास का नारा इस तरह एक मखौल से कुछ कम नहीं।          जनता के बीच अब भाजपा की टोटके बाजी चलने वाली नहीं है। जनता सच्चाई जानती है और वह बहकाने वालों को सबक सिखाना भी जानती है। भाजपाई समझते है कि जिस तरह से केन्द्र की सरकार अपनी विफलता पर पर्दा डालकर तीन वर्ष बिता सकती है तो उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार भी उसी रास्ते पर चलकर अपना धर्म निभा सकती है। लोकतंत्र के साथ यह धोखाधड़ी देर तक नहीं चलकर सकती है।                                                                                              (राजेंद्र चौधरी)                                                                                              मुख्य प्रवक्ता

Published in Uttar Pradesh

ब्रेकिग खबर तमकुही विधान सभा में अब नही होगी अनॆतिक कार्य : बाल्टी बाबा तमकुही के भाजपा प्रत्याशी रहे जगदीश मिश्र उर्फ़ बाल्टी बाबा ने कहा है की प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के साथ पुरे प्रदेश में शुसासन कायम होगा जो लोग गलत कार्य पूर्व में कर रहे थे वे अब संभल जाय अब प्रदेश में कानून का राज होगा बाल्टी बाबा ने उच्चाधिकारियो से कहा है की जनहित के कार्य में लापरवाही न हो सबको उचित न्याय मिले अवेध वसूली पर रोक लगे अब स्टेंड के नाम पर किसी को वसूली करने की छुट नही मिलेगी गुंडई करने वाले जेल जायेगे उन्होंने कहा की तमकुही में टेक्सी स्टेंड के नाम पर कुछ लोग गलत ढंग से अवेध वसूली करते है अब इस पर बिराम लगेगा

Published in Gorakhpur

*मुख्यमंत्री बनने के लिये भाजपाइयों मे जोड़-तोड़ शुरू* ----------------------------------------------- *लखनऊ । उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के लिए इस समय भाजपा के एक दर्जन से अधिक नेता प्रयासरत हैंभाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से जिनके भी मधुर रिश्ते हैं उनके माध्यम से अपना नाम उन तक पहुंचा रहे हैं। इसके साथ ही अधिक से अधिक विधायकों को अपने पक्ष मे करने और उन्हे लालच देने का भी खेल हो रहा है। इसकी वजह से इस समय सभी विधायकों की पूछ – परख बढ़ गई है। यदि कुछ को छोड़ दें, तो हर विधायक हर किसी को आश्वासन दे रहा है। अभी तक जिन नेताओं के नाम मुख्यमंत्री के रूप मे चर्चा मे हैं* *उनमें केशव मौर्य, राजनाथ सिंह, मनोज सिन्हा, सतीश महाना, श्रीकांत शर्मा, दिनेश शर्मा, महेश शर्मा, स्मृति ईरानी, सिद्धार्थ सिंह हैं। अभी दो दिनों तक जोड़-तोड़ चलेंगे जल्द ही किसी एक के नाम पर मोहर लग सकती है*।

Published in Uttar Pradesh
Page 1 of 61

Media News

  • Bollywood
  • Life Style
  • Trending
  • +18
  • IPL 2017
Post by साकेत सिंह धोनी
- May 30, 2017
 नगर की धरोहरों के सम्मान और अभिनन्दन के क्रम में आज लीडर्स आगरा और तपन फाउंडेशन ने होटल वैभव पैलेस में एक भव्य ...
Post by रोली त्रिपाठी
- May 27, 2017
यदि जरूरी दवाएं खत्म होने वाली है तो खरीद लें क्योंकि 30 मई को प्रदेश भर के दवा कारोबारी ने हड़ताल ...
Post by साकेत सिंह धोनी
- May 30, 2017
मलाइका अरोड़ा ने सोशल मीडिया पर एक फोटो शेयर की है, जिसमें वे श्वेता बच्चन के साथ नजर आ रही हैं। इस फोटो में मलाइका अपना ...
Post by साकेत सिंह धोनी
- May 29, 2017
आज-काल के आधुनिक समय में हर मुद्दों पर लोग खुल कर बात कारते है. जाहे वो लड़की हो या लड़का. बात चाहे जिस मुद्दे कि हो ...
Post by साकेत सिंह धोनी
- May 30, 2017
भारतीय क्रिकेट टीम ने लंदन के केनिंग्टन ओवल मैदान पर बांग्लादेश तके खिलाफ चैंपियंस ट्रॉफी के आखिरी प्रैक्टिस मैच में ...
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…