1496141648 Image 1496141628491

सुबह से हो रही झमाझम बारिश ने जहां एक तरफ गर्मी से लोगों को राहत दी है वहीं शहर की सड़कों पर घुटनों तक पानी जमा हो गया है। मानसून के पहले की इस बारिश ने नगर निगम प्रशासन के उन दावों की पोल खोल दी है जिनके आधार पर अधिकारी लोगों को जलजमाव से मुक्ति दिलाने की बात कह रहे थे। 
मंगलवार सुबह से शहर में रुक-रुक कर बारिश हो रही है। इससे शहर के कई इलाकों में सामान्य ट्रैफिक बुरी तरह प्रभावित हुआ है। कुछ मोहल्लों में लोगों के घरों में पानी घुस जाने की भी खबर है। बहरहाल, जो भी हो लोग इस बारिश का आनंद भी उठा रहे हैं। मई की शुरुआत से ही पड़ रही प्रचंड गर्मी से बारिश की बूंदों ने बड़ी राहत दी है।  

Published in Gorakhpur

1496126961 Image 1496126940946


उत्तर प्रदेश में कल नई सरकार बनने के बाद समाजवादी पार्टी अपनी दल बल के साथ सड़कों पर उतर योगी सरकार के खिलाफ राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने का कार्य की...
इस ज्ञापन में प्रमुख रूप से यह इंगित किया गया था कि योगी आदित्यनाथ की सरकार 2 महीने के कार्यकाल में अपराधों पर लगाम लगाने में पूरी तरह से विफल हो चुकी है बढ़ते अपराध को देखते हुए यह सरकार 2 महीने में ही जनता की नजरों में फेल हो गई है .....
सपा सरकार द्वारा यह कृत्य भले ही विपक्ष द्वारा निभाई गई परंपरा हो परंतु उत्तर प्रदेश में बढ़ते अपराध का कारण क्या है इसकी खोजबीन करना भी आवश्यक है...
19 मार्च के बाद उत्तर प्रदेश में कई स्थानों पर जैसे गोरखपुर , देवरिया ,सहारनपुर ,कानपुर आदि में कई बड़ी घटनाएं घटी हैं जिस पर से मुंह नहीं फेरा जा सकता है...
परंतु इन घटनाओं का कारण क्या है क्या यह कोई साजिश तो नहीं जो कई वर्षों बाद आई योगी आदित्यनाथ सरकार को बदनाम करने की हो रही है... इस विषय में गोरखपुर टाइम्स द्वारा विशेष पड़ताल की गई जिसमें कुछ ऐसी स्थिति भी पाई गई है जो जोकि योगी सरकार के खिलाफ साजिश को अंजाम देते हुए नजर आ रही है....

कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि पिछली सपा सरकार में कुछ ऐसे अराजक तत्व मौजूद थे जिनका कार्य बिना कुछ किए धनउगाही करना था परंतु ,योगी सरकार के कड़े रवैया के कारण उनका धंधा चौपट हो चुका है और वह सड़कों पर आकर अपनी उग्रता का प्रदर्शन कर रहे हैं...
वही हाल ही में बड़े नेता का बयान आया था कि योगी सरकार को बदनाम करने के लिए विभिन्न राजनीतिक दल साजिश के तहत कई घटनाओं को अंजाम दिलवा रहे हैं....
हमारे एक विशेषज्ञ ने तो कहा है कि भाजपा के कुछ उग्र कार्यकर्ता भी इस तरह के कार्य कर रहे हैं जो की अशोभनीय है जिसको लेकर योगी आदित्यनाथ ने हमेशा कहा है कि कार्यकर्ताओं द्वारा किसी भी भूल को माफ नहीं किया जाएगा जो सरकार को बदनाम करने का कार्य करें...
बहरहाल कुछ भी हो वास्तविकता यह है कि अपराधों पर लगाम कसने का कार्य योगी आदित्यनाथ सरकार निरंतर कर रही है, परंतु इस बात को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है कि वास्तव में अपराध का ग्राफ निरंतर बढ़ रहा है...

योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि दीया बुझने से पहले बहुत फड़कता है हो सकता है कि इस सरकार द्वारा कड़े कानून व्यवस्था को अपराधी पचा नहीं पा रहे हैं और ऐसी हरकत अपने खात्मे के लिए कर रहे हैं....

Published in Uttar Pradesh

1496125533 Image 1496125511941

बाबरी मामले की सुनवाई के लिए लखनऊ आ रहे बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती से सीएम योगी मुलाकात करने पहुंच चुके हैं। यह मुलाकात लखनऊ के वीवीआईपी गेस्ट हाउस में होनी है। बीजेपी के दिग्गज नेता अयोध्या के विवादित ढांचा विध्वंस मामले में आज लखनऊ की सीबीआई कोर्ट में पेश होंगे।

बाबरी मामले की सुनवाई के लिए लखनऊ पहुंच आडवाणी

विशेष अदालत के न्यायाधीश सुरेन्द्र कुमार यादव ने हाजिरी माफी तो दे दी थी, लेकिन 30 मई को हर हाल में पेश होने का आदेश दिया था। गेस्ट हाउस में लाल कृष्ण आडवाणी और जोशी के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ मुलाकात करेंगे।लालकृष्ण आडवाणी व मुरली मनोहर जोशी एयरपोर्ट से वीवीआईपी गेस्ट हाउस पहुंच रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी वीवीआइपी गेस्ट हाउस पहुंच चुकें हैं।

Published in Uttar Pradesh

प्राविधिक शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' योजना के तहत सरकार टॉप करने वाली बलिकाओं को प्रोत्साहित करने के लिए उन्हें इंटरनेट सुविधाओं से युक्त टैबलेट प्रदान करेगी । राज्य प्रदेश परीक्षा के यूजी पाठ्यक्रमो ( बीटेक ,बीफार्म, बीआर्क आदि) की 80 बलिकाओं , एमबीए पाठ्यक्रम की दस और एमसीए पाठ्यक्रम की 10 बलिकाओं को अक्टूबर में लखनऊ में समारोह का आयोजन कर प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाएगा।

Published in Uttar Pradesh

पडरौना। जनपद के अधिकारियों और डॉक्टरों की संयुक्त टीमों ने सोमवार को वृहद स्तर पर अभियान चलाकर 38 अल्ट्रासाउंड सेंटरों की जांच की। जांच के दौरान कई अल्ट्रासाउंड सेंटरों में कमियां पाई गईं। जो सेंटर बंद थे, उन्हें सील कर दिया गया।
जनपद में राजकीय एवं निजी तौर पर संचालित अल्ट्रासाउंड सेंटरों की सोमवार को जांच करने के लिए तहसील स्तर पर एसडीएम और डॉक्टरों की दो-दो सदस्यीय टीमें बनाई गई थीं, जबकि अन्य क्षेत्रों में अन्य अधिकारी और डॉक्टर टीम में शामिल थे। पडरौना में एसडीएम सदर गणेश प्रसाद सिंह ने डॉ. आफताब के साथ मिलकर नगर के कसया रोड स्थित एक अल्ट्रासाउंड सेंटर की जांच की। एसडीएम ने जांच रिपोर्ट एडीएम को भेज दी। इसके अलावा रामकोला रोड, कसया रोड, खिरिया टोला, बेलवा चुंगी, मेन बाजार, आवास विकास कॉलोनी और दरबार रोड के निकट स्थित कुल सात अल्ट्रासाउंड सेंटरों की जांच की गई। एसडीएम सदर गणेश प्रसाद सिंह ने बताया कि उन्हें अल्ट्रासाउंड सेंटर की जांच करने का निर्देश डीएम की तरफ से मिला था, वहां सब कुछ ठीक पाया गया। गर्भवती महिलाओं की जांच से संबंधित रजिस्टर मिली, जिस पर दर्ज फोन नंबर पर कॉल कर इसका सत्यापन भी किया गया।
तमकुहीराज प्रतिनिधि के अनुसार एसडीएम विपिन कुमार सिंह और बीडीओ अरुण कुमार की अगुवाई में स्वास्थ्य विभाग की संयुक्त टीम ने तमकुहीराज में संचालित दो अल्ट्रासाउंड सेंटरों की जांच की। निरीक्षण के समय एक अल्ट्रासाउंड सेंटर बंद मिला, जबकि दूसरे अल्ट्रासाउंड सेंटर पर उपलब्ध कागजात अपूर्ण थे। अधिकारियों ने दोनों दुकानें सील कर दीं। जांच की सूचना मिलने पर अफसरों और कर्मचारियों में खलबली मची रही।
हाटा प्रतिनिधि के अनुसार एसडीएम और तहसीलदार की अगुवाई में दो अलग-अलग टीमों ने कस्बे में संचालित अल्ट्रासाउंड सेंटरों की जांच की। एक सेंटर पर कागजात ठीक नहीं मिलने पर टीम ने उसे सील कर दिया। एसडीएम अजय नारायण सिंह की अगुवाई में एक टीम हाटा कस्बे में स्थित एक डायग्नोस्टिक सेंटर पर जांच करने पहुंची। टीम के पहुंचते ही वहां अफरातफरी मच गई। टीम ने जब संचालक से सेंटर से संबंधित कागजात मांगे तो वह कोई वैध कागजात नहीं दिखा सके। सेंटर के निरीक्षण में यह भी पाया गया गया कि वहां अल्ट्रासाउंड मशीन के साथ-साथ एक्सरे मशीन भी लगाई गई थी। हालांकि संचालक का कहना था कि एक्सरे मशीन चलती नहीं है, लेकिन टीम ने उसे नियम के विरुद्ध बताया। अल्ट्रासाउंड से संबंधित कागजात भी संचालक के पास नहीं थे। इस पर टीम ने उस सेंटर को सील कर रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेज दी। तहसीलदार हरिश्चंद्र त्रिपाठी की अगुवाई में गठित दूसरी टीम ने पीएचसी के पास स्थित अल्ट्रासाउंड सेंटर की जांच की। यहां टीम कागजात चेक कर सेंटर का निरीक्षण कर वापस लौट गई। एसडीएम अजय नारायण सिंह ने बताया कि वैध कागजातों के अभाव में एक सेंटर को सील कर दिया गया है। तमकुहीरोड प्रतिनिधि के अनुसार डिप्टी सीएमओ डॉ. ताहिर अली और एक अन्य डॉक्टर ने सेवरही के सीसी रोड पर स्थित एक जगह अल्ट्रासाउंड सेंटर की जांच की। डॉक्टर न होते हुए भी उसके नाम का बोर्ड लगाए जाने के कारण टीम ने उसे सील कर दिया।
इसी तरह जनपद के अन्य क्षेत्रों में स्थित अल्ट्रासाउंड सेंटरों की भी जांच की गई। जहां के संचालक अथवा डॉक्टर नहीं थे या फिर अल्ट्रासाउंड सेंटर बंद मिले, उन्हें सील कर दिया गया। इस संबंध में एडीएम कृष्णलाल तिवारी का कहना था कि जिले भर में कुल 38 अल्ट्रासाउंड सेंटरों की जांच कराई गई। रिपोर्ट आ गई है। कार्रवाई के लिए डीएम के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा।

Published in Gorakhpur
Page 1 of 239

Media News

  • Bollywood
  • Life Style
  • Trending
  • +18
  • IPL 2017
Post by साकेत सिंह धोनी
- May 30, 2017
 नगर की धरोहरों के सम्मान और अभिनन्दन के क्रम में आज लीडर्स आगरा और तपन फाउंडेशन ने होटल वैभव पैलेस में एक भव्य ...
Post by रोली त्रिपाठी
- May 27, 2017
यदि जरूरी दवाएं खत्म होने वाली है तो खरीद लें क्योंकि 30 मई को प्रदेश भर के दवा कारोबारी ने हड़ताल ...
Post by साकेत सिंह धोनी
- May 30, 2017
मलाइका अरोड़ा ने सोशल मीडिया पर एक फोटो शेयर की है, जिसमें वे श्वेता बच्चन के साथ नजर आ रही हैं। इस फोटो में मलाइका अपना ...
Post by साकेत सिंह धोनी
- May 29, 2017
आज-काल के आधुनिक समय में हर मुद्दों पर लोग खुल कर बात कारते है. जाहे वो लड़की हो या लड़का. बात चाहे जिस मुद्दे कि हो ...
Post by साकेत सिंह धोनी
- May 30, 2017
भारतीय क्रिकेट टीम ने लंदन के केनिंग्टन ओवल मैदान पर बांग्लादेश तके खिलाफ चैंपियंस ट्रॉफी के आखिरी प्रैक्टिस मैच में ...
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…