Dharm & Astro

आखिर क्यों पूजा जाता है पीपल के पेड़ को ?

आप भी पीपल के पेड़ की पूजा करते हैं पर क्या आपको मालूम है ? क्यों की जाती है पीपल के पेड़ की पूजा आपने भी यही सुना होगा की पीपल के पेड़ में भगवान वास करते है आखिर भगवान का वास कैसे हुआ यह आपको नहीं पता होगा हिंदू सभ्यता में सब पेड़ों की मान्यता में सबसे ज्यादा पीपल के पेड़ की मान्यता है कहा जाता है कि इसमें भगवान का वास है इसके पीछे एक बहुत ही रोचक कहानियां आइए जानते हैं.पौराणिक कथाओं के अनुसार लक्ष्मी और उसकी छोटी बहन दरिद्रा भगवान विष्णु के पास पहुंचे और कहने लगी कि हे प्रभु हम कहां पर रहे इस पर भगवान विष्णु ने दरिद्रा और लक्ष्मी को पीपल के वृक्ष में रहने की अनुमति प्रदान कर दी और इसी कारण से वह पीपल के पेड़ में पेड़ में रहने लग गई और साथ ही उन्हें भगवान विष्णु ने यह वरदान दे दिया कि जो भी शनिवार को पीपल के पेड़ की पूजा करता है.

उसे शनि के ग्रह से मुक्ति मिलेगी और उस पर लक्ष्मी हमेशा मेहरबान रहेगी शनि के प्रकोप से घर का ऐश्वर्य भी नष्ट हो जाता है मगर शनिवार को पीपल के पेड़ की पूजा करने से आप पर शनि का प्रकोप नहीं रहेगा और आप पर लक्ष्मी और शनि की कृपा हमेशा बनी रहेगी इस वजह से सभी लोग पीपल को काटने से डरते हैं.

अगर कई बार पीपल को काटना जरुरी हो जाता है तो इस कारण रविवार को इसको काटा जा सकता है और साथ ही पीपल के पेड़ में कहा जाता है कि भगवान विष्णु के कई रूप वास करते हैं इसलिए इस पेड़ की हिंदू धर्म में बहुत मान्यता है

Leave a Reply