Category

Dharm (123)

जय माता की आज का राशिफल 17/01/2017. मेष (Aries): आर्थिक और व्यावसायिक रूप से आज का दिन लाभदायक होने के सम्बंध में बताते हैं। आर्थिक लाभ मिलेगा। लंबे समय का वित्तीय आयोजन भी कर सकेंगे। शरीर और मन से स्वस्थ रहेंगे। मित्रों और पारिवारिक सदस्यों के साथ खूब आनंद में दिन व्यतीत होगा। अधिक लोगों के साथ सम्पर्क में रहने का अवसर मिलेगा। व्यापारीगण उनके व्यापार का विस्तार और आयोजन कर सकेंगे। लोकहित का कार्य आपके हाथ से होगा। वृषभ (Tauras): विचारों की विशालता और वाणी का जादू आज अन्य को प्रभावित और मंत्रमुग्ध करेगा। लोगों के साथ सौहार्दपूर्ण सम्बंध रहेगा। बौद्धिक चर्चा या वाद-विवाद में सफलता मिलेगी। वाचन एवं लेखन में अभिरुचि बढ़ेगी। विद्यार्थियों के लिए अच्छा समय है। परिश्रम के अनुपात में कम सफलता मिलने पर भी निष्ठापूर्वक आप आगे बढ़ेंगे। पाचनतंत्र की समस्या से तबीयत खराब होने की संभावना देखते हैं। मिथुन (Gemini): आज महत्त्वपूर्ण निर्णय लेने में आप द्विधा अनुभव करेंगे। माता और स्त्रियों के मामले में अधिक संवेदनशील बनेंगे। विचारों की भरमार से मानसिक थकान अनुभव करेंगे। अनिद्रा के कारण शारीरिक अस्वस्थता रहेगी। हो सके तो प्रवास टालें। पानी या अन्य तरल पदार्थ भयानक साबित हो सकते हैं। जमीन, मिल्कियत आदि की चर्चा से बचें। कर्क (Cancer): कार्य की सफलता और नए कार्य के शुभारंभ के लिए आज का दिन अच्छा रहेगा। मित्रों तथा स्वजनों के साथ की मुलाकात से आप खुशहाल रहेंगे। लघु यात्रा का योग है। भाई- बंधुओं से मेलजोल बना रहेगा। प्रिय व्यक्ति के सानिध्य से मन रोमांचित बनेगा। आर्थिक लाभ तथा समाज में आदर सम्मान मिलेगा। विरोधियों को पराजित कर सकेंगे। आज किसी के साथ प्रेम के बंधन में बंधेंगे। सिंह (Leo): दूर बसनेवाले स्नेहीजन तथा मित्रों के साथ के संदेश व्यवहार से आपको लाभ होगा। परिवार में सुख-शांति बनी रहेगी। उत्तम भोजन की प्राप्ति होगी। अपनी वाकपटुता से किसी के मन को जीत सकते हैं। निर्धारित काम में सफलता मिलेगी। गणनापूर्वक आयोजन और अत्यधिक विचार मन में उलझन पैदा करेंगे। स्त्री मित्र आपको सहायक साबित होंगी। कन्या (Virgo): वैचारिक समृद्धि और वाणी की मोहकता से आपको लाभ होगा और आप सौहार्दपूर्ण सम्बंध विकसित कर अपना काम निकाल सकेंगे। व्यवसाय की दृष्टि से आज का दिन लाभदायक साबित होगा। आपका स्वास्थ्य बना रहेगा और मन भी स्वस्थ रहेगा। सगे- सम्बंधियों के साथ मुलाकात होगी औऱ सुख- आनंद की प्राप्ति होगी। धन लाभ तथा पर्यटन का योग है। ईश्वर का आशीर्वाद आपके साथ है। तुला (Libra): आपकी वाणी और व्यवहार को संयम में रखना पड़ेगा। अन्य व्यक्तियों या कुटुंबीजनों के साथ उग्र बोलाचाली होने की संभावना है। परोपकार का बदला उपकार से मिल सकता है। आय की अपेक्षा खर्च की मात्रा बढ़ेगी। तबीयत का ध्यान रखने की सलाह है। दुविधाएं और समस्याएं मन की शांति हर लेगी। आध्यात्मिक वाचन या ईश्वर का नाम स्मरण शांति देगा। वृश्चिक (Scorpio): ईश्वर की कृपा से आप गृहस्थजीवन में सुख और संतोष की अनुभूति करेंगे। पत्नी तथा पुत्र की तरफ से शुभ समाचार मिलेगा। मांगलिक कार्य होंगे। विवाह के लिए संयोग बनेंगे। नौकरी धंधे में अच्छे अवसर खड़े होने से आय में वृद्धि होगी। मित्रों के साथ पिकनिक का आयोजन होगा। स्त्री मित्रों से लाभ होने का योग है। बुजुर्गों के सहयोग से प्रगति की जा सकती है। धनु (Sagittarius): आज आर्थिक और व्यापारिक आयोजन करने के लिए शुभ दिन है। कार्य सफलतापूर्वक संपन्न होगा। परोपकार की भावना आज बलवतर रहेगी। आमोद- प्रमोद के साथ आपका दिन व्यतीत होगा। नौकरी-व्यवसाय में पदोन्नति और मान- सम्मान प्राप्त होगा। गृहस्थजीवन में आनंद व्याप्त रहेगा। मकर (Capricorn): आपका आज का दिन मिश्र फलदायक साबित होगा। बौद्धिक कार्यों और व्यवसाय में नई विचारधारा अमल में लाएंगे। लेखन और साहित्य से सम्बंधित प्रवृत्तियों में आपकी सृजनात्मकता दिखाई देगी। फिर भी मन के किसी कोने में आपको अस्वस्थता अनुभव होगा। परिणामस्वरूप शारीरिक थकान और ऊबन रहेगी। संतानों की समस्याओं के विषय में चिंता पैदा होगी। उच्च पदाधिकारियों या प्रतिस्पर्धियों के साथ चर्चा में उतरना हितकर नहीं है। कुंभ (Aquarius): नकारात्मक विचारों से मन में हताशा पैदा होगी। इस समय मानसिक उद्वेग और क्रोध की भावना का अनुभव करेंगे। खर्च बढ़ेगा। वाणी पर संयम न रहने के कारण परिवार में मनमुटाव और झगड़े होने की संभावना है। स्वास्थ्य खराब होगा। दुर्घटना से बचें ईश्वर का नाम स्मरण और आध्यात्मिक पठन आपको मानसिक शांति देंगे। मीन (Pisces): ईश्वर के आशीर्वाद से आपका आज का दिन सुख- शांति से व्यतीत होगा। व्यापारियों को भागीदारी के लिए उत्तम समय है। पति-पत्नी के बीच दांपत्यजीवन में निकटता का अनुभव होगा। मित्रों, स्वजनों के साथ मिलन मुलाकात होगा। प्रेमीजनों का रोमांस अधिक गहरा बनेगा। सार्वजनिक जीवन में प्रसिद्धि मिलेगी। उत्तम वैवाहिक सुख प्राप्त होगा।✍

हिंदु धर्म हिंदू धर्म में माना जाता है कि व्रत के दौरान सेक्स नहीं करना चाहिए। सेक्स से जुड़े कोई ख्याल भी नहीं आने चाहिए। जबकि हिंदू धर्म में ऐसा कोई कड़ा नियम नहीं है। हिंदू धर्म में वैज्ञानिक तौर पर इस बात की पुष्टि की गई है। दरअसल व्रत के दौरान शरीर में बिल्कुल भी ताकत नहीं रहती। जबकि सेक्स करने के लिए काफी ताकत की जरूरत होती है। इस कारण से हिंदू धर्म में व्रत के दौरान सेक्स करने की मनाही है। 2 मुस्लिम धर्म मुस्लिम धर्म में सेक्स को पवित्रता से जोड़कर देखा जाता है। इसलिए रोजा रखने के दौरान सेक्स की केवल रात में अनुमति है। दिन के दौरान जब रोजा रखा जाता है तो शारीरिक संबंध बनाने की मनाही है। 3 बुद्धिज्म बौद्ध धर्म में व्रत के दौरान सेक्स करने पर पाबंदी है। लेकिन इसमें पवित्रता और थकावट के कारण मनाही नहीं है। इसमें मोह से छुटकारा पाने के लिए सेक्स करने पर पाबंदी लगाई गई है। वैसे भी बौद्ध धर्म का उद्देश्य ही है मोह को त्यागो। 4 ईसाई धर्म ईसाई धर्म में सेक्स करना कभी गलत नहीं माना जाता है। इस धर्म के अनुसार ये बहुत ही पवित्र काम है और दो लोगों को आपस में जोड़ने का काम करता है। 5 यहूदी धर्म यहूदी धर्म में व्रत के दौरान सेक्स करने की सख्त मनाही है। इस धर्म के अनुसार व्रत खुद से जुड़ने और मेडिटेट करने का समय होता है। व्रत का यही लक्ष्य होता है कि इंसान अपनी इंद्रियों पर कंट्रोल रखे।

जय माता की आज का राशिफल 16/01/2017. राशि फलादेश मेष अस्वस्थता, चिंता, विवाद हानि, शत्रु शांत रहेंगे। पीड़ा, कलह का दिन है। धैर्य व विवेक से कार्य करें। पुराने मित्र से मिलन की संभावना है। राशि फलादेश वृष धनलाभ, सुख, चिंता, प्रमाद, शत्रु शांत रहेंगे। कुछ हानि, पुराने मित्र से मिलन, अपने वालों से विरोध की संभावना है। राशि फलादेश मिथुन कष्ट, हानि, ‍विवाद, शारीरिक सुख, माता को कष्ट, चिंता, भय का दिन है। धीरज धरना ही ठीक होगा। स्त्री को पुराने रोग उभरने की संभावना है। राशि फलादेश कर्क लाभ, सुख, शत्रु पीड़ा देंगे। स्त्री को पीड़ा, हानि की संभावना है। पराक्रम से शांति संभावित है। सुख की प्राप्ति संभव है। खर्च बढ़ने के योग हैं। राशि फलादेश सिंह नेत्रों में व्याधि, धन तथा मित्र लाभ होने की संभावना है। शत्रु परास्त होंगे, लेकिन षड्यंत्र रचेंगे। सतर्कता की आवश्यकता है। राशि फलादेश कन्या कष्ट, भय, खर्च, चिंता, शत्रु भय, संतान से कष्ट, हानि, अचानक संकट खड़ा होने के योग हैं। धैर्य व विवेक से कार्य करें। राशि फलादेश तुला भय, पीड़ा, हानि, कष्ट, पराक्रम वृद्धि, अस्वस्थता, शोक समाचार प्राप्त होने का दिन है। पराक्रम से समय सुधरने की संभावना है। राशि फलादेश वृश्चिक लाभ, सुख, पराक्रम से वृद्धि, विजय, अनजाना भय, जायदाद संबंधी लाभ का योग है। कुछ अप्रिय समाचार की प्राप्ति संभव है। राशि फलादेश धनु अधिकार प्राप्ति के योग बनते हैं। स्त्री सुख, लाभ, स्त्री को कष्ट, कुछ अप्रिय समाचार की प्राप्ति, कलह पर काबू पाना आवश्यक है। राशि फलादेश मकर यात्रा के योग, राजभय, शत्रु से भय, कुछ आलस्य तथा विरोधकारक दिन रहने की संभावना है। मान-सम्मान में कमी के योग बनते हैं। राशि फलादेश कुंभ विजय, हर्ष, लाभ, शत्रु हतोत्साहित होंगे। कुसंगति से कष्ट, गलत सलाहकारों से सावधान रहने का दिन है। यश, मान, लाभ में वृद्धि के योग हैं। राशि फलादेश मीन विरोध, हानि, कष्ट, शत्रुओं से कष्ट, रोग तथा भयकारक वातावरण रहने की संभावना है। अपमान से बचें, विवाद न करें।✍

साल का पहला पुष्य नक्षत्र मकर संक्रांति के एक दिन पहले यानी की 13 जनवरी को पड़ रहा है। यह दिन बहुत ही शुभ माना जाता है। जो कि शुक्रवार के दिन पड़ रहा है। इस दिन मां लक्ष्मी का दिन माना जाता है। पुष्य नक्षत्र और शुक्रवार एक दिन होने के कारण यह दिन बहुत ही शुभ है। इस दिन मां लक्ष्मी की विधि-विधान से पूजा करने पर वह आपके ऊपर अपनी कृपा जरुर करती है। 12 जनवरी की रात 2 बजकर 32 मिनट से यह शुभ योग प्रारम्भ होगा जो कि 13 जनवरी को रात 1 बजकर 47 मिनट में खत्म होगा। जिसके कारण 13 जनवरी को दिनभर पुष्य योग होगा। इस दिन धन-संपत्ति के लिए अच्छा दिन है। इस दिन मां लक्ष्मी को उनकी प्रिय वस्तुएं जैसे कि कमल का फूल, मिठाई, सिंदूर आदि अर्पित करना शुभ होगा। इस दिन कुछ उपाय करने से आपकी किस्मत बदल सकती है। जानिए इन उपाय के बारें में। इस दिन माता लक्ष्मी को प्रिय वस्तुएं चढ़ाने से वह खुश होती है। इसके लिए जल्दी सुबह स्नान कर कमल का फूल और मिठाई लेकर मां लक्ष्मी के मंदिर जाकर अर्पित करें। लक्ष्मी की पूजा करते समय चांदी का सिक्का रखें। बाद में इन्हें अपनी तिजोरी में रख दें। इससे आपकी तिजोरी हमेशा पैसों से भरी रहेगी। मां लक्ष्मी के साथ-साथ भगवान विष्णु की पूजा करने से भी मां की कृपा आप पर बनी रहती है। इसके लिए दक्षिणावर्ती शंख में केसर मिला दूध भरकर भगवान विष्णु का अभिषेक करें। इससे आपको धन लाभ मिलेगा।

उत्त्तर प्रदेश से सामने आया धर्म परिवर्तन चौकाने वाला मामला जहां एक मुस्लिम महिला ने हिन्दू धर्म अपना लिया इस मुस्लिम महिला की हिन्दू धर्म अपनाने की वजह जान कर लोग बेहद हैरान दिख रहें है। शुक्रवार देर शाम जय शिवसेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित आर्यन के नेतृत्व में मुस्लिम महिला शबनम ने हिंदू धर्म अपना लिया। आर्य समाज के विद्वान शास्त्री ने वैदिक रीति से धर्म परिवर्तन कराया। अब ये शबनम नाम की महिला सीमा बन गई है। हिन्दू हुई इस महिला के मुताबिक, वह जय शिवसेना के साथ मिलकर तीन तलाक व मुस्लिम धर्म में व्याप्त अन्य कुरीतियों से पीड़ित महिलाओं की मदद के लिए लड़ाई लड़ेगी। इसी वजह से उसने धर्म परिवर्तन कराया है। महिला के धर्म परिवर्तन के बाद जय शिवसेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित आर्यन ने कहा कि हमारी पार्टी धर्म बदलने के लिए किसी पर दबाव नहीं डालती, लेकिन हमारे पास जो भी मुस्लिम महिला अपनी परेशानी लेकर आएगी, हम उसकी पूरी मदद करेंगे। प्रशासन ने हमारे इस काम में काफी अड़ंगे लगाए, लेकिन महिला ने धर्म परिवर्तन कर ही लिया। अमित आर्यन ने कहा कि धर्म परिवर्तन का काम वैदिक रीति के अनुसार कोई भी व्यक्ति स्वेच्छा से कर सकता है। प्रत्येक व्यक्ति को शुद्धिकरण का अधिकार है। उत्तर प्रदेश के गाज़ियाबाद में कैला भट्टा में रहने वाली इस महिला को 2014 में उसके पति ने तलाक दे दिया था। ऐसे में इद्दत की अवधि के बाद उसने पति का घर छोड़ दिया था। उस वक्त महिला के 2 बच्चे थे। पीड़िता का आरोप है कि उसके पति ने गुमराह करके उसे वापस बुला लिया। वहीं, हलाला की आड़ में महिला से वेश्यावृत्ति कराई गई।

हेल्थ डेस्क: आज के समय में हर कोई अपनी सेहत को ज्यादा ध्यान देते है। कई लोग तो ऐसे होते है जो खाने से पहले सौ बार सोचते है कि हमारी सेहत के लिए क्या सही है और क्या नहीं। पुराने जमाने में कहा जाता था साथ ही इस बात में जोर दिया जाता था कि उनका बच्चा भरपूर मात्रा में रोटी, दूध, घी का सेवन करे। जिससे कि बुढ़ापे तक उन्हें किसी भी तरह की बीमारी न हो। आज के समय में हम जंकफूड, चावल, रोटी में ज्यादा रहते है। साथ में इस बात की उलझन रहती है कि हमारी बॉडी के लिए चावल खाना ज्यादा सही है या फिर रोटी। चावल और दोनों को ही इंडियन खाना का एक पार्ट माना जाता है। इन दोनों के बिना खाना अधूरा माना जाता है, लेकिन जो लोग अपनी सेहत का अधिक ध्यान रखते है वह इस बात में उलझे रहते है कि उनकी सेहत के लिए ज्यादा क्या सही है। वह कई लोगों के पूछते भी रहते है कि आखिर आपकी सेहत के लिए सबसे ज्यादा पोषण किससे मिलेगा। हम अपनी खबर में बताएंगे कि आखिर आपकी सेहत के लिए सबसे ज्यादा कौन सी चीज ठीक है रोटी या फिर चावल। ब्लड शुगर चावल और रोटी दोनों में ग्लाइसेमिक इंडेक्स एक सा होता है। यानी कि दोनों से बल्ड प्रेशर एक ही तरह बढ़ता है। इसलिए आपको अगर ब्लड प्रेशर की समस्या है तो आप दोनों चीज का सकते है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि चावल ज्यादा मात्रा में न खाएं। हो वजन बढने की चिंता चावल में भरपूर मात्रा में स्टार्च पाया जाता है। जिसके कारण ये जल्दी से पच जाता है। साथ ही चावल में फैट अधिक होता है। वही रोटी देर तक नहीं पचती है। जिससे आपको देर तक भूख नहीं लगती है। अगर आप अपनी डाइटिंग, थायराइड, मोटापा पर ध्यान दे रहे है, तो चावल से दूरी बना कर रखें। पाचन तंत्र को कौन रखता ज्यादा फिट चावल में कम कार्बोहाइड्रेट और कै‍लोरी की मात्रा ठीक होती है। वही रोटी में कैलोरी और संयुक्त कार्बोहाड्रेट शामिल होता है। इसलिए अगर आप चावल खाते हैं तो उसमें रोटी की तुलना में कार्बोहाइड्रेट को ब्रेक करने के लिये कम ऊर्जा का प्रयोग होता है। अगर आपका पेट ठीक नहीं रहता है तो आपके लिए चावल सबसे अच्छा ऑप्शन है। पोषण तत्वों से भरपूर चावल में कम मात्रा में फॉस्‍फोरस, पोटेशियम और मैग्‍नीशियम पाया जाता है। वही रोटी में चावल की तुलना में अधिक मात्रा में कैल्‍श‍ियम, फॉस्‍फोरस, आयरन और पोटेशियम जैसे मिनरल्‍स पाए जाते हैं। चावल में कैल्‍श‍ियम, सोडियम नहीं होता। वही रोटी में चावल के मुकाबले ज्‍यादा फाइबर, प्रोटीन, माइक्रोन्‍यूट्र‍िएंट्स और सोडियम मिलता है। चावल में सोडियम नहीं होता। रोटी और चावल, दोनों में फोलेट मिलता है। यह पानी में घुलनशील विटामिन बी है। हालांकि, फोलेट के लिए चावल रोटी के मुकाबले ज्‍यादा बेहतर स्रोत है।

हमारे आस-पास और घर में मौजूद चीजों का किसी न किसी रुप में हम पर जरुर असर होता है। आपने देखा होगा कि कोई चीज आपके घर में आई होगी और उसके बाद से घर में एक के बाद एक खुशखबरी और उन्नति होती गई होगी। वैसे ही नया घर या काम शुरू करने को बाद कई बार घर में सुख-शांति नहीं रहती। धंधा करने वालों को काम में मुश्किलों का सामना करना पड़ता है कई बार तो धंधा बंद तक करना पड़ जाता हैं। वास्तु विज्ञान में ऐसी ही कुछ चीज का उल्लेख किया गया है जिससे नए मकान-फैक्ट्री व उद्योग के शुरुआत में करने से सुख-शांति औऱ काम में उन्नति मिलती है। वास्तु विशेषज्ञों की मानें तो अगर आप नए मकान-फैक्ट्री व उद्योग को शुरू करने वाले हैं तो उपाय जरूर करें। भूमि-पूजन करके नींव का मूहूर्त अवश्य करना चाहिए। इस मूहूर्त में चांदी का सर्प बनाकर जमीन में जरूर डालना चाहिए। भारतीय मान्यता के अनुसार जिस प्रकार शेषनाग के सिर पर पूरी पृथ्वी का भार है, ठीक उसी प्रकार से इस भवन का भार शेषनाग की तरह सर्प के उपर रखा रहेगा। इससे मकान की नींव कभी नहीं टूटेगी और बनी रहेगी। मकान किसी भी आपदा से बचा रहेगा। यह प्रयोग सैकड़ो बार परीक्षित है। इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य व सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

Page 4 of 11

Media News

  • Bollywood
  • Life Style
  • Trending
  • +18
  • IPL 2017
Post by साकेत सिंह धोनी
- May 30, 2017
 नगर की धरोहरों के सम्मान और अभिनन्दन के क्रम में आज लीडर्स आगरा और तपन फाउंडेशन ने होटल वैभव पैलेस में एक भव्य ...
Post by रोली त्रिपाठी
- May 27, 2017
यदि जरूरी दवाएं खत्म होने वाली है तो खरीद लें क्योंकि 30 मई को प्रदेश भर के दवा कारोबारी ने हड़ताल ...
Post by साकेत सिंह धोनी
- May 30, 2017
मलाइका अरोड़ा ने सोशल मीडिया पर एक फोटो शेयर की है, जिसमें वे श्वेता बच्चन के साथ नजर आ रही हैं। इस फोटो में मलाइका अपना ...
Post by साकेत सिंह धोनी
- May 29, 2017
आज-काल के आधुनिक समय में हर मुद्दों पर लोग खुल कर बात कारते है. जाहे वो लड़की हो या लड़का. बात चाहे जिस मुद्दे कि हो ...
Post by साकेत सिंह धोनी
- May 30, 2017
भारतीय क्रिकेट टीम ने लंदन के केनिंग्टन ओवल मैदान पर बांग्लादेश तके खिलाफ चैंपियंस ट्रॉफी के आखिरी प्रैक्टिस मैच में ...
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…