Gorakhpur

Gorakhpur (2968)

1503155789 Image 1503155783757

योगी ने दी बाढ़पीड़ितों को बड़ी राहत -फसल का मुआवजा, लगान और बिजली बिल माफ
गोरखपुर (जेएनएन)। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि बाढ़ प्रभावित बाढ़ग्रस्‍त क्षेत्रों में बिजली बिल और माल गुजारी माफ की जाएगी। बाढ़ में बर्बाद फसलों का उचित मुआवजा दिया जाएगा। राहत सामग्री में यदि किसी तरह की लापरवाही की गई अथवा भेद-भाव किया जाएगा तो जिम्मेदार बख्शे नहीं जाएंगे। मुख्यमंत्री शनिवार को गोरखपुर, महराजगंज और कुशीनगर जनपद में बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों का दौरा करने के लिए आए हुए थे। उन्होंने महराजगंज जनपद के पनियरा में राहत वितरित करने के बाद उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार की संवेदनाएं सभी के साथ है।
योगी ने कहा की बाढ़ एक दैवीय आपदा है। सरकार के साथ व्यापारी समाजसेवी स्वयं सेवी संस्थाए को बाढ़ पीडितो के मदद के लिए आगे आना होगा। विना भेदभाव के आपदा पीडितो को सहयोग करना होगा। प्रशासन बाढ़ पीडितो को किरासन आयल, मोमबत्ती, लाई, चना, गेहू, चावल, आलू के साथ पालीथीन तत्काल प्रभाव से उपलव्ध कराए। जिन बाढ़ पीडितो के मकान ध्वस्त हो गए है, उन्हें अनुमन्य सहायता उपलब्ध कराई जाय। संक्रामक वीमारी से वचाव के लिए क्लोरीन की गोली का वितरण कराया जाय। पशुचारे की व्यवस्था होना चाहिए। जहाँ पेयजल दूषित है, वहां शुद्ध पेयजल की भी व्यवस्था तत्काल कराने को कहा।
योगी ने कहा कि बाढ़ग्रस्त इलाके में नाव की व्यवस्था एनडीआरएफ की टीमों को लगागर पानी में फसे लोगो को सुरक्षित स्थान पर लाने का कार्य हो। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के भी कई इलाके बाढ़ से प्रभावित है । बाढ़ पीड़ित भयभीत न हो, सरकार आपके साथ है। उन्होंने कहा कि बाढ़ पीडितो को उपलब्ध कराई गई राहत सामग्री और सहायता राशि की बाद में अपने स्तर से समीक्षा कराऊँगा। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि बाढ़ प्रभावित लोगो को यदि बासी भोजन मिला तो उसकी भी जांच कराएंगे। इसमें किसी तरह की लापरवाही अक्षम्य मानी जाएगी।योगी ने दी बाढ़पीड़ितों को बड़ी राहत -फसल का मुआवजा, लगान और बिजली बिल माफ

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि बाढ़ प्रभावित बाढ़ग्रस्‍त क्षेत्रों में बिजली बिल और माल गुजारी माफ की जाएगी। बाढ़ में बर्बाद फसलों का उचित मुआवजा दिया जाएगा। राहत सामग्री में यदि किसी तरह की लापरवाही की गई अथवा भेद-भाव किया जाएगा तो जिम्मेदार बख्शे नहीं जाएंगे। मुख्यमंत्री शनिवार को गोरखपुर, महराजगंज और कुशीनगर जनपद में बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों का दौरा करने के लिए आए हुए थे। उन्होंने महराजगंज जनपद के पनियरा में राहत वितरित करने के बाद उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार की संवेदनाएं सभी के साथ है।
योगी ने कहा की बाढ़ एक दैवीय आपदा है। सरकार के साथ व्यापारी समाजसेवी स्वयं सेवी संस्थाए को बाढ़ पीडितो के मदद के लिए आगे आना होगा। विना भेदभाव के आपदा पीडितो को सहयोग करना होगा। प्रशासन बाढ़ पीडितो को किरासन आयल, मोमबत्ती, लाई, चना, गेहू, चावल, आलू के साथ पालीथीन तत्काल प्रभाव से उपलव्ध कराए। जिन बाढ़ पीडितो के मकान ध्वस्त हो गए है, उन्हें अनुमन्य सहायता उपलब्ध कराई जाय। संक्रामक वीमारी से वचाव के लिए क्लोरीन की गोली का वितरण कराया जाय। पशुचारे की व्यवस्था होना चाहिए। जहाँ पेयजल दूषित है, वहां शुद्ध पेयजल की भी व्यवस्था तत्काल कराने को कहा।
योगी ने कहा कि बाढ़ग्रस्त इलाके में नाव की व्यवस्था एनडीआरएफ की टीमों को लगागर पानी में फसे लोगो को सुरक्षित स्थान पर लाने का कार्य हो। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के भी कई इलाके बाढ़ से प्रभावित है । बाढ़ पीड़ित भयभीत न हो, सरकार आपके साथ है। उन्होंने कहा कि बाढ़ पीडितो को उपलब्ध कराई गई राहत सामग्री और सहायता राशि की बाद में अपने स्तर से समीक्षा कराऊँगा। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि बाढ़ प्रभावित लोगो को यदि बासी भोजन मिला तो उसकी भी जांच कराएंगे। इसमें किसी तरह की लापरवाही अक्षम्य मानी जाएगी।

वर्तमान समय मे बाढ पूरे पुर्वाचल मे सुरसा की तरह मुह फैलाये जा रही है | गोरखपुर समेत आस पास के जिले बाढ के चपेट मे आ गये है इसमे धान की फ़सल खेतो मे खडी है | जिसमे किसान की खून पसीना लगा है | बाढ की चपेट मे लगभग पूर्वान्चल की अधिकतर खेत आ गये है | लगभग उनकी धान की फ़सल खत्म के बराबर है | इस पर जो प्रधानमंत्री फ़सल बीमा करवाये है | क्या वह लाभ प्रार्थी होगे | इस पर सवालिया निशान इस लिये उठता है | बैंक जब उनसे बीमा करा लेते बाद जब किसान क्लेम मागता तब इतने नियम तौर तरिके समझाने लगते जिससे किसान उलझ जाता जिससे उस बेचारे की एक तरफ फ़सल बर्बाद हो जाती दूसरी तरफ़ बीमा कराने मे लगा पैसा | इस गम्भीर समस्या पर सरकार को अवश्य ध्यान देना चाहिये | और इस बार तो और क्योकी बाढ पूर्वान्चल समेत पूरे बिहार मे आया है |

गोरखपुर टाइम्स के संवाददाता द्वारा लगातार बाढ़ की खबर पर नजर बनाए हुए हैं इससे संबंधित एक बड़ी खबर आ रही है कि कौड़ीराम के सोहगौरा गांव में बंधे में पड़ी दरार। राप्ती नदी की कटान से ग्रामीणों में दहशत। फिलहाल स्थिति सामान्य है और गोरखपुर टाइम्स आग्रह करता है कि अफवाहों से बचें

कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी बीआरडी मेडिकल कॉलेज में मौत के शिकार हुए बच्चों के परिजनों से मुलाकात करने के लिए गोरखपुर पहुंच गए है. जहां वे सबसे पहले अपनी यात्रा के दौरान बाघागाढ़ा गांव में मृतक बच्चों के परिजनों से मिल रहे हैं.
बता दें, कि पिछले 10 अगस्त को ऑक्सीजन की सप्लाई रुक जाने से बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 36 बच्चों की जान चली गई थी. वहीं कांग्रेस उपाध्यक्ष बाघागाढ़ा,मलवा,बसौली खुर्द,बांसगांव ,खुटहन, खजनी और जंगल एकाल गांव जाकर मृतकों के परिजनों से मुलाकात करेंगे. राहुल गांधी के इस दौरे में गुलाम नबी आजाद भी मौजूद है.
राहुल गांधी ने गोरखपुर दौरे के दौरान स्थानिय पुलिस की सुरक्षा लेने से भी मना कर दिया है. सूत्रों की मानें तो कांग्रेस उपाध्यक्ष नहीं चाहते कि बाढ़ राहत और बचाव का काम छोड़ कर पुलिस उनके साथ रहे. गौरतलब है कि गोरखपुर पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बीआरडी मेडिकल काॅलेज गोरखपुर के हुई बच्चों की मौत के पीछे पिछली सरकारें दोषी हैं. सीएम योगी ने राहुल गांधी का नाम ना लेते हुए उनपर निशाना साधते हुए कहा, ‘गोरखपुर को पिकनिक स्पॉट न बना।

1503131091 Image 1503131083383


कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी शनिवार को गोरखपुर पहुंचे. यहां वे उन बच्चों के परिजनों से मिले, जिनकी बीआरडी अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के चलते मौत हो गई थी. राहुल गांधी के साथ गोरखपुर पहुंचे कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि सीएम योगी के यहां से 5 बार सांसद होने के बावजूद उन्होंने अस्पताल के लिए कुछ नहीं किया.
इससे पहले जब ये घटना सामने आई थी, तब कांग्रेस का एक डेलीगेशन दिल्ली से गोरखपुर गया था. जिसमें वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद, आरपीएन सिंह और राज बब्बर शामिल थे. कांग्रेस नेताओं ने अस्पताल में बच्चों की मौत के लिए सीधे तौर पर योगी आदित्यनाथ सरकार को कठघरे में खड़ा किया था. इससे पहले राहुल गांधी के गोरखपुर दौरे पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गोरखपुर को पिकनिक स्पॉट ना बनने दें. दिल्ली में बैठा कोई युवराज और लखनऊ में बैठा कोई युवराज इस दर्द को नहीं समझ सकता. हम पूर्वी उत्तर प्रदेश को पिकनिक स्पॉट बनाने की इजाजत नहीं दे सकते. स्वच्छ और सुंदर यूपी बनाने की जरूरत है. 10-15 साल मे पिछली सरकार ने भ्रष्टाचार को संस्थागत किया.
कांग्रेस ने बच्चों की मौत के मामले को व्यापक स्तर पर उठाया है. घटना के बाद यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष राज बब्बर ने बड़ी तादाद में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ लखनऊ की सड़कों पर बैठकर योगी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया था. इस घटना पर अभी चर्चा चल ही रही है कि राहुल गांधी का गोरखपुर जाना मामले को और राजनीतिक हवा देने का काम कर सकता है. हालांकि, दूसरी तरफ घटना पर गोरखपुर के डीएम ने जांच रिपोर्ट दी है, उसमें उन्होंने बच्चों की मौत के लिए बीआरडी कॉलेज के प्रिंसिपल और दूसरे डॉक्टर्स को जिम्मेदार ठहराया है.
बता दें कि बीआरडी अस्तपाल में इंसेफेलाइटिस से पीड़ित बच्चों की ऑक्सीजन की कमी के चलते मौत हो गई थी. 11 अगस्त को करीब 30 बच्चों की मौत की सूचना सामने आई थी, जिसके बाद हर दिन मौत का आंकड़ा बढ़ता गया और करीब 70 बच्चों की मौत हो गई. हालांकि, सरकार लगातार ये दावा करती रही कि ऑक्सीजन की कमी के चलते बच्चों की मौत नहीं हुई.

1503127154 Image 1503127149579

जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक आज साढ़े दस बजे पटना में शुरु हो चुकी है। बैठक में जदयू के सभी आमंत्रित सदस्य शामिल हैं।  बैठक मुख्यमंत्री आवास, 1 अणे मार्ग पर शुरू हुई है। बैठक तो आवास के अंदर चल रही है लेकिन मुख्यमंत्री आवास के बाहर समर्थकों का जमावड़ा लगा हुआ है।
वहीं, जदयू के बागी नेता शरद यादव भी पटना पहुंच चुके हैं। पटना एयरपोर्ट पर उनका स्वागत करने के लिए काफी संख्या में समर्थक मौजूद रहे। शरद यादव जिंदाबाद के नारे लग रहे हैं। आज वो एसकेएम हॉल में जन अदालत सम्मेलन को संबोधित करेंगे।

बैठक में भाग लेने पहुंचे झारखंड के जदयू प्रदेश अध्यक्ष जालेश्वर महतो ने कहा कि झारखंड से पार्टी के सभी सदस्य नीतीश कुमार के साथ हैं। वहां शरद यादव की कोई चर्चा नहीं है। नीतीश कुमार का एनडीए के साथ जाने का फैसला बिल्कुल सही है।
वहीं, पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि पंजाब से हम सब नीतीश कुमार जी के साथ हैं। वहां शरद यादव का कोई आधार नहीं है। बिहार में एनडीए के साथ जाने का फैसला नीतीश का सही फैसला है, इससे बिहार की तरक्की होगी जो जरूरी है।
मुख्यमंत्री आवास के बाहर समर्थक नीतीश कुमार की जय-जयकार कर रहे हैं और एक सुर में कह रहे हैं कि बिहार का मतलब नीतीश कुमार और जदयू मतलब नीतीश कुमार होता है। शरद यादव का कोई वजूद नहीं। नीतीश कुमार ने भ्रष्टाचार से कभी समझौता नहीं किया, इसीलिए बिहार की राजनीति का सबसे बड़ा कोई चेहरा है तो वह है नीतीश कुमार का। समर्थकों ने यह भी कहा कि आज बिहार बाढ़ की विभीषिका से जूझ रहा है और नीतीश कुमार की वजह से ही बिहार की जनता को केंद्रीय सहायता इतने बड़े पैमाने पर तुरत मिल गई है। अगर एनडीए के साथ जाने से बिहार को फायदा होता है और बिहार का विकास होता है तो कौन कहता है कि नीतीश का फैसला गलत है।
वहीं दूसरी ओर आज जदयू के बागी नेता शरद के नेतृत्व में जन अदालत का भी आयोजन किया गया है। देखना होगा कि पार्टी कार्यकारिणी की बैठक में शरद यादव शरीक होते हैं या नहीं, क्योंकि वो नीतीश के भाजपा के साथ गठबंधन कर बिहार में सरकार बनाने से नाराज हैं और उन्होंने जदयू को अपनी पार्टी करार दिया है। साथ ही, नीतीश को खुली चुनौती भी दी है।
केसी त्यागी ने कहा- शरद आए तो उनका स्वागत करेंगे
जदयू के पार्टी प्रवक्ता केसी त्यागी ने कहा है कि जदयू में कोई टूट नहीं है। शरद यादव नाराज जरूर हैं लेकिन वो पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं, उनका स्वागत है। हम यही चाहते हैं कि वो आज कार्यकारिणी की बैठक में आएं। उन्होंने पार्टी के लिए बहुत कुछ किया है। लेकिन अगर वो लालू यादव के साथ जाते हैं तो उनपर बड़ी कार्रवाई की जाएगी।

1503126019 Image 1503126015409


गोरखपुर पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कहा कि बीआरडी मेडिकल काॅलेज गोरखपुर के हुई बच्चों की मौत के पीछे पिछली सरकारें दोषी हैं. सीएम योगी ने राहुल गांधी का नाम ना लेते हुए उनपर निशाना साधते हुए कहा, ‘गोरखपुर को पिकनिक स्पॉट न बनाएं’. बता दें कि आज ही राहुल गांधी भी गोरखपुर में बीआरडी हॉस्पिटल का दौरा करने वाले हैं.
सीएम योगी ने गोरखपुर में सबसे पहले अंधियारीबाग दलित बस्ती में ‘स्वच्छ उत्तर प्रदेश, स्वस्थ उत्तर प्रदेश’ का शुभारंभ किया. यहां उन्होंने सड़कों पर झाड़ू भी लगाई. यह अभियान 25 अगस्त तक यूपी के अलग-अलग राज्यों में चलाया जाएगा.
लंबे समय से इंसेफ्लाइटिस से जूझ रहे गोरखपुर में इस अभियान की शुरुआत करने से पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने अधियारीबाग में डॉ. भीमराव अंबेडकर की मूर्ति पर माल्यार्पण किया. उन्होंने कहा कि इंसेफलाइटिस से हो रही मौतों को रोकना जरूरी है इसके लिए लोगों को सफाई का ख़ास ध्यान देना होगा. इस तरह की बीमारियों से लड़ने के लिए जनता को एकसाथ कदम उठाने होंगे. लोगों से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि इंसेफलाइटिस के बारे में ज्यादा से ज्यादा जागरूकता फैलाएं.
सीएम योगी ने कहा कि इधर-उधर कूड़ा फेंकने के बजाय किसी बंद जगह पर फेंकें या गड्ढे में दबा दें. उन्होंने कहा कि इस अभियान को बड़े स्तर पर ले जाएं, ताकि पूर्वी उत्तर प्रदेश को इंसेफलाइटिस सहित अन्य बड़ी बीमरियों से बचाया जा सके. आम आदमी को सफाई अभियान से जुडऩा होगा.
उन्होंने कहा कि गोरखपुर में फैले इंसेफ्लाइटिस के इलाज से बेहतर है, उससे बचाव पर काम करना. इसका आसानी से बचाव आसपास के क्षेत्र में सफाई से ही हो सकता है. वहीं आम आदमी के इससे जुडऩे से भ्रष्टाचार पर भी अंकुश लगेगा.

1503122935 Image 1503122932408

यूपी में योगी सरकार विशेष स्वच्छता अभियान के तहत पूरे प्रदेश में धड़ल्ले से उपयोग हो रही पॉलीथिन के विरुद्ध अब सघन जांच अभियान चलाएगी. 25 अगस्त तक चलने वाले इस अभियान के तहत सूबे के सभी नगर आयुक्त अपने-अपने इलाके में प्लास्टिक के कैरी बैग की बिक्री को रोकने के लिए नोटिस जारी करेंगे.
इस पर अमल न करने पर प्रतिष्ठान को सील करने के साथ-साथ जुर्माने की कार्रवाई भी की जाएगी. सूबे के नगर विकास मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने निर्देश जारी कर दिए हैं. खन्ना ने बताया कि 50 माइक्रॉन के पॉलीथिन को प्रतिबंधित किया गया है और इसका उपयोग रोकने के लिए पूरे प्रदेश में अभियान चलाने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को जारी कर दिए गए हैं. उन्होंने बताया कि पॉलीथिनन के कारण नाले, नालियां चोक होती हैं और जल निकासी न होने के कारण जलभराव की समस्या उत्पन्न होती है. इससे मच्छर तथा जल जनित बीमारियां पैदा होती हैं. सरकार द्वारा यह भी निर्देश दिए हैं कि संबंधित अधिकारी अपने इलाके के तीन बड़े प्लास्टिक कैरी बैग के उत्पादक, थोक विक्रेता और खुदरा विक्रेताओं के प्रतिष्ठानों का स्वयं निरीक्षण कर कार्रवाई करेंगे.

Page 1 of 248

Media News

  • Bollywood
  • Life Style
  • Trending
  • +18
  • IPL 2017
Post by साकेत सिंह धोनी
- Aug 04, 2017
नवाजुद्दीन सिद्दिकी की आने वाली फिल्म ‘बाबूमोशाय बंदूकबाज’ पिछले कुछ समय से लगातार चर्चा में है। अपने ट्रेलर से लेकर ...
Post by पुनीत पाण्डेय
- Jul 27, 2017
मुलेठी (यष्टीमधु ) - मुलेठी से हम सब परिचित हैं | भारतवर्ष में इसका उत्पादन कम ही होता है | यह ...
Post by साकेत सिंह धोनी
- Aug 09, 2017
दक्षिण-पूर्व चीन के गुआंगजौ शहर के लोग उस समय हैरान रह गए जब एक 12 साल के लड़के को शहर की सड़कों पर बस चलाते देखा। इससे ...
Post by साकेत सिंह धोनी
- Aug 17, 2017
बॉलीवुड की लैला सनी लियोनी का जादू लोगों पर ऐसा चलता है कि लोग उन्हें पर्दे पर देखकर दीवाने हो जाते हैं. हाल में सनी एक ...
Post by साकेत सिंह धोनी
- Aug 18, 2017
भारतीय टीम के मध्यक्रम के बल्लेबाज सुरेश रैना को यूएई में स्थित गल्फ पेट्रोकेम ग्रुप, जीपी पेट्रोलियम लिमिटेड ने ...
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…